सिल्वर मेडलिस्ट सिन्धु का गोल्डन डील

645
0
SHARE

पटना: हैदराबादी बाला और रियो ओलिंपिक में सिल्वर मेडल जीतने वाली बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु का सुहाना सफर जारी है। अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक पीवी सिंधु ने स्पोर्ट्स मैनेजमेंट कंपनी बेसलाइन के साथ तीन साल के लिए 50 करोड़ रुपये के एक अनुबंध पर हस्ताक्षर किया। कहा जाता है कि क्रिकेटर के अलावा किसी अन्य खेल के खिलाड़ी के लिए यह सबसे बड़ी रकम मानी जाती है।

बेसलाइन के सह-संस्थापक और प्रबंध निदेशक तुहीन मिश्रा ने टाइम्स ऑफ इंडिया से कहा कि किसी भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी के साथ साइन की गई यह बेस्ट डील है। मिश्रा ने आगे कहा कि उनकी बढ़ती लोकप्रियता ने कई कंपनियों का ध्यान अपनी ओर खींचा है। अगले तीन सालों में हम उनका मान बढ़ाने पर काम करेंगे। अद्भुत सफलता प्राप्त करने के बावजूद उनकी विनम्रता बहुत सराहनीय है।

बेसलाइन अब सिंधु की ब्रैन्ड प्रोफाइलिंग, अनुबंध आदि का काम देखेगी। फिलहाल 16 कंपनियां सिंधु को अपने प्रॉडक्ट के विज्ञापन के लिए साइन करना चाहती हैं। लेकिन मिश्रा का कहना है कि सिंधु फिलहाल नौ के साथ डील फाइनल करने के करीब हैं। जब से सिंधु रियो से लौटी हैं कई कंपनियां उन्हें अप्रोच कर रही हैं। पिछले कुछ दिनों में हमारी सिंधु से काफी बात हुई है कि आखिर किस कंपनी के साथ डील की जाए। अभी तक नौ को फाइनल किया गया है। अगले हफ्ते के अंत तक हम डील साइन कर पाएंगे। बाकियों के लिए हमें अभी कुछ वक्त चाहिए।

सिंधु के कोच पुलेला गोपी चंद ने कोला ब्रैन्ड का विज्ञापन करने से इंकार कर दिया था। सिंधु भी ऐसे किसी उत्पाद का विज्ञापन नहीं करेंगी जिसका युवाओं पर बुरा असर पड़ता हो।

मिश्रा ने कहा कि एक और बात यह है कि सिंधु विज्ञापन के लिए बहुत कम वक्त देंगी। उनकी प्रैक्टिस से इस पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा।

डील के मुताबिक सिंधु को हर साल की शुरुआत में कुछ गारंटी अमाउंट मिल जाएगा बाकी उनके विज्ञापनों पर निर्भर करेगा। सिंधु को कितनी रकम मिलेगी इस बारे में मिश्रा ने खुलकर बात करने से इनकार कर दिया।

श्रोत: एनबीटी