आनंद के सुपर 18 ने दिखाए जलवे

288
0
SHARE

पटना – सुपर 30 में इस बार आईआईटी जे ई एडवांस की परीक्षा में कुल 30 छात्रों में 18 छात्रों ने क्वालीफाई करते हुए आईआईटी में अपनी जगह बनाई। सुपर 30 संस्थान के संचालक आनंद कुमार ने बताया कि एक तरफ जहां हमारे 18 बच्चों ने कामयाबी हासिल करते हुए क्वालीफाई किया है वहीं 12 छात्रों में थोड़ी मायूसी है। लेकिन जिस तरह से बच्चों ने कड़ी मेहनत लग्न से पढ़ाई की वो बेहद ही काबिले तारीफ है।

आनंद ने बताया कि हमारे सुपर 30 पर कई तरह की साजिशे की गई। बच्चों को भ्रमित किया गया था। अफवाहें उड़ाई गई थी। काफी दवाब दिया गया था लेकिन इन सब मुसीबतों के बावजूद मैंने अपना हिम्मत नहीं हारा और आज जिस प्रकार का परिणाम आया है मैं बेहद खुश हूं।

आंनद ने बताया कि इसमे सबसे बड़ी बात यह कि इस बार कंप्यूटर बेस्ड एग्जाम था और बच्चे ग्रामीण परिवेश के थे। कुछ वक़्त के लिए मैं असहज था लेकिन बच्चों ने अपनी काबिलियत के दम पर सफलता हासिल की।

प्रियंका यादव जो उत्तर प्रदेश की मउ की रहने वाली हैं बताया कि आज आईआईटी में क्वालीफाई होकर मुझे बेहद खुशी हो रही और इसका सीधा क्रेडिट आनंद सर और प्रणव सर को जाता है। प्रियंका ने कहा कि मैं सोच भी नहीं सकती थी कि मैं आईआईटी में क्वालीफाई करूंगी। जब मैं यहाँ आई थी तो बेहद निराश थी अंततः मैं इस परीक्षा को छोड़ने वाली थी लेकिन आंनद सर मेरे प्रेरणा बन कर मुझे दिलाशा दिया और मेहनत करने के लिए कहा। उन्होंने मुझे समय-समय पर अपना मार्गदर्शन भी दिया जिससे कि मैं सफलता के इस मुकाम पर हूँ।

प्रियंका ने बताया कि मेरी फैमिली बेहद गरीब है। घर की आर्थिक स्थिति बेहद खराब है पिता जी एक मैकेनिक है। मैंने कभी सोचा नहीं था। प्रियंका ने बताया कि मैं बड़ी होकर आईएएस बनना चाहती हूं जिससे कि जो कमजोर वर्ग के लोग उन्हें मदद कर सकूँ।