स्वास्ति नित्या की प्रस्तुति के साथ भागलपुर महोत्सव का आगाज

817
0
SHARE

भागलपुर: बिहार के भागलपुर जिले में सर्द रात में सुर और ताल के संगम के बीच बुधवार को भागलपुर महोत्सव का आगाज हुआ। टीवी फेम स्वस्ति नित्या की गणेश वंदना से कार्यक्रम शुरू हुआ। इसके बाद अलग अलग कलाकारों ने अपनी प्रस्तुतियों से मंच को जीवंत कर दिया। जमालपुर से आए झा बंधुओं ने गजलों से समां बांधा।

उद्घाटन के बाद शाम छह बजे मंज पर कलाकारों का आना शुरू हुआ। स्वास्ति नित्या ने गणेश वंदना से सभी का अभिवादन किया। इसके बाद फिल्मी गानों पर उसके नृत्य ने जमकर तालियां बजवाईं। उसकी प्रस्तुति के बाद उसकी मां और पिता मंच पर बुलाया गया। जहां स्वास्ति ने दोनों की मिमिक्री की।

स्वास्ति की प्रस्तुति के बाद शरण्या गु्रप की छात्रों ने भरत नाट्यम पेश कर लोगों का ध्यान खींचा। भरत नाट्यम में कृष्ण और कालिया नाग प्रसंग को दिखाया गया। इस ग्रुप में मौसमी, सलोनी मुसकान, परिक्षिता, बुदारी, मोंटू, विशाखा, साक्षी चौरसिया, सुरभि सुमन, भावना जैन और आनंद शामिल थे। भरत नाट्यम जब तक हुआ लोगों की नजरें मंच से नहीं हटीं।

महोत्सव में भोजपुरी गीतों पर खूब मस्ती हुई। निखिल डांस ग्रुप ने शारदा सिन्हा के गीत पनिया के जहाज से पलटनिया बन अइहा पिया पर शानदान प्रस्तुति की। ताल डांस अकादमी के छात्रों ने भी देवी के गीत यूपी से अइलें सजनवां, जोड़ा लेकर लहंगवा.. पर दर्शक झूमने लगे। गु्रप में सोनाली, स्वाति, अंकु, रिया, सोनी, कोमल भारती, ईशा, जुबली और श्वेता भारती शामिल थीं। सुल्तानगंज से आई डांस टीम ने भी देश भक्ति गीत पर सबका मन मोहा। कार्यक्रम में कश्मीर के शहीदों को श्रद्धांजलि दी। एसएस डांस अकादमी के छात्रों ने भी रंग लाल लाल रंग दे गाने पर प्रस्तुति दी। माउंट असीसी के छात्र रक्षम चौरसिया और तूलिका ने एकल प्रस्तुति की।

गजलों ने सजाई शाम

महोत्सव में जमालपुर से आए अभिषेक झा और अभिजीत झा ने गजलों से शाम को सजाया। हुजूर आपका भी एहतराम करता चलूं से शुरुआत हुई। लोग जब रंगत में आए तो गजल से भी झूमने लगे। दूसरी गजल जिंदा रहने के लिए तेरी कसम इक मुलाकात जरूरी है सनम जब शुरू हुआ तो लोग कुर्सियों पर खड़े होकर तालियां बजाने लगे। हर गजल के बाद वन्स मोर की आवाज गूंजती रही।

श्रोत: हिन्दुस्तान