11 दिनों तक लगातार ठेला चलाने के बाद हरियाणा से सहरसा पहुंचे 4 प्रवासी मजदूर

269
0
SHARE

SAHARSA: सूबे के मुखिया सीएम नीतीश लॉकडाउन के दौरान देश के अलग अलग हिस्सों में फंसे बिहारी मजदूरों से लगातार अपील कर रहे हैं कि वे पैदल राज्य वापस ना आएं. सरकार उन्हें वापस लाने की व्यवस्था में जुटी हुई है. आइल बावजूद मजदूरों के पलायान का सिलसिला नहीं रुक रहा है. रोजाना कई मजदूर पैदल या अन्य माध्यमों से हज़ारों किलोमीटर की सफर तय कर बिहार लौट रहे हैं.

ताजा मामला सहरसा का है, जहां सोमवार को 4 मजदूर 11 दिन ठेला चलाने के बाद हरयाणा के गुड़गांव से सहरसा पहुंचे. मिली जानकारी के अनुसार सभी मजदूर हरियाणा के गुड़गांव में मजदूरी और सब्जी बेचने का काम करते थे. लेकिन जब पूरे देश में लॉकडाउन हो गया और इनका काम बंद हो गया तो पहले तो इन्होंने इंतजार किया लेकिन जब पास के सारे पैसे खत्म हो गए तो वे अपने घर की ओर निकल पड़े.

वहीं यूपी के रास्ते बिहार होते हुए सहरसा पहुंचे इन मजदूरों ने बताया कि वहां खाने रहने की काफी दिक्कत हो गई थी इसलिए वापस आ गए. रास्ते भर में कभी खाना मिलता था कभी नहीं मिलता था. कभी पानी पीकर अपनी प्यास और पेट की आग बुझा लेते थे.

सहरसा से मुकेश की रिपोर्ट