1274 लीटर शराब पर चला रोलर, डीएम की उपस्थिति में नष्ट की गई शराब

756
0
SHARE

अरवल सदर प्रखंड के मधुबन मैदान में जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष की उपस्थिति में 5280 बोतल शराब को विनष्ट किया गया। इस दौरान सभी वरीय पदाधिकारी भी उपस्थित थे। मौके पर मौजूद डीएम ने कहा कि पूर्ण शराबबंदी के बाद जब्त किए गए शराब को पहले भी विनष्ट किया गया था। मधुबन के मैदान में शराब के विनष्टीकरण के कार्यवाही को देखने के लिए काफी संख्या में आसपास के लोग एकत्रित हो गये। इलाके से जब्त किए गए शराब को मैदान में फैला दिया गया उसके बाद उस पर रोलर चलाया गया।

IMG-20170721-WA0070 डीएम ने कहा कि सभी अधिकारी शराब कारोबार के खिलाफ नियमित अभियान चलाते रहें। इस कार्य में किसी भी हालत में लापरवाही नहीं बरती जाए। इस कार्रवाई के दौरान फोटोग्राफी की व्यवस्था भी की गई थी। मौके पर 40 लिटर महुआ शराब को भी विनष्ट किया गया। इस अवसर पर कई थानेदार तथा उत्पाद विभाग के अधिकारी मौजूद थे। बताते चलें कि नए कानून के तहत जब्त किए गए शराब को संबंधित मामले के निष्पादन के बाद विनष्ट करने का नियम है जिसके तहत इलाके में शराब नष्ट करने की प्रक्रिया पूर्व में भी कई बार हो चुकी है।

खुले में सार्वजनिक जगह पर शराब नष्ट करने के कार्यक्रम आयोजन पर जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष ने कहा कि इससे लोगों में शराब के सेवन तथा इसके बिक्री को लेकर घृणा का भाव उत्पन्न होगा। साथ ही उन्होंने कहा कि राज्य सरकार पूर्ण शराबबंदी के प्रति दृढ़ संकल्पित हैं। किसी भी सूरत में शराब की बिक्री और सेवन बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। जो भी ऐसा करने का प्रयास करेंगे उनके विरुद्ध कठोर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। पुलिस प्रशासन के साथ-साथ आम आवाम में पूर्ण शराबबंदी को लेकर जन जागरूकता होना चाहिए, शराबबंदी से समाज में जहां खुशियाली आई है वहीं असामाजिक गतिविधियों पर भी काफी हद तक रोक लगी है।