प्रकाशोत्सव पर पटना को मिलेगी 24 घंटे बिजली

1124
0
SHARE

पटना: गुरु गोविंद सिंह के 350वें प्रकाशोत्सव पर राजधानी पटना को 24 घंटे बिजली मिलेगी। राज्य सरकार ने इस संबंध में पावर होल्डिंग कंपनी को तत्काल कार्रवाई करने को कहा है। कंपनी ने भी इसके लिए पटना को उसकी जरूरत के अनुसार बिजली की आपूर्ति शुरु कर दी है।

Read More Patna News in Hindi

पटना को बिजली देने वाले तमाम ग्रिडों को तकनीकी रुप से दुरुस्त कर लिया गया है। दो दिन पूर्व पटना सिटी से जुड़े तीनों ग्रिडों का मेन्टेनेंस कार्य पूरा कर लिया गया है। इस समय कटरा, गायघाट और फतुहा ग्रिड से बिजली की आपूर्ति की जा रही है। इसके अलावा निकट के अन्य ग्रिडों से भी वैकल्पिक बिजली दी जा सकती है।

राज्य सरकार ने बिजली कंपनी को पटना सिटी पर खास ध्यान देने के लिए युद्धस्तर पर कार्रवाई करने को कहा है। उर्जा मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव ने बताया बिजली कंपनी को पटना को जरूरत के अनुसार बिजली देने का निर्देश दिया गया है। किसी सूरत में पटना में बिजली की किल्लत नहीं होनी चाहिए। खासकर गुरु गोविंद सिंह के 350 वें जन्मोत्सव के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में बिजली दिक्कत न हो इसके लिए हर संभव कदम उठाने को कहा गया है। तकनीकी गड़बड़ी न हो इसके लिए प्रभावी कार्ययोजना बनाने का भी निर्देश है।

Read News about Bihar in Hindi

वहीं बिजली कंपनी ने जरूरत के अनुसार बिजली की आपूर्ति शुरु भी कर दी है। पटना को इस समय 600-650 मेगावाट बिजली दी जा रही है। इसके लिए खगौल, दीघा, कटरा, गायघाट, जक्कनपुर, मीठापुर, करबिगहिया, फतुहा और गौरीचक ग्रिडों को फूल लोट पर चलाया जा रहा है। इन ग्रिडों को जितनी बिजली चाहिए उतनी दी जा रही है।

बिजली कंपनी पूरे प्रदेश की जरूरत पूरा करने के लिए बाजार से भी बिजली खरीद रही है। केन्द्र से बिहार को 2942 मेगावाट का कोटा निर्धारित है लेकिन वहां से 2298 मेगावाट बिजली मिल रही है। जरूरत पूरा करने के लिए बिहार बाजार से लगभग एक हजार मेगावाट बिजली ले रहा है। पावर ट्रेडिंग कारपोरेशन से 447 मेगावाट बिजली भी ली जा रही है।