फिल्मी स्टाइल में बच्चे का अपहरण

541
0
SHARE

बिहार में जंगल राज़ की वापसी !

आठ वर्षीय लड़के का अपहरण, पुलिस बॉर्डर सील कर खोजबीन में जुटी

मधुबनी/लदनियां– सीमावर्ती थाना लदनियां अंतर्गत डलोखर पंचायत के मिर्जापुर गाँव से शनिवार को दिन के ग्यारह बजे दो नकाबपोश अपहरणकर्ताओं ने स्कूल से परीक्षा देकर घर लौट रहे छात्र का अपहरण कर लिया। व्यवसायी इंद्रदेव नायक के आठ वर्षीय पुत्र सुंदर कुमार का अपहरण कर खाजेडीह की ओर गायब हो गए।

अपहृत लड़का सुंदर कुमार स्कूल माउण्ट एवेरेस्ट से कक्षा तीसरी की परीक्षा दे कर अपनी बड़ी वहन 12 वर्षीय रिचा कुमारी के साथ अपने घर आ रहा था। रास्ते में दो नकावपोश अपहरणकर्ताओं ने उजली रंग की अपाची वाइक से छात्र सुंदर को कहा कि चलो तुम अपने चाचा मिथिलेश की दुकान दिखाओ, यह कह उसे अपनी बाइक पर बैठा कर खाजेडीह की ओर गए और अपहरण कर गायब हो गए।

छात्र सुंदर कुमार को अपनी बहन रिचा कुमारी के साथ घर वापस नहीं होने पर व रिचा के द्वारा बताए गए बातों के आधार पर घर पर रहे परिजन दादा-दादी के साथ अन्य परिजन ने खोजबीन करना शुरू कर दिया। अपहृत लड़के का घंटो तक सुराग नहीं मिलने पर स्थानीय थाने को फोन कर अपहरण की घटना की जानकारी दी गयी। जानकारी मिलते ही पुलिस दल बल के साथ घटना स्थान पर पहुँची। थाना प्रभारी मनोज कुमार मामले की जाँच-पड़ताल कर अपहृत लड़के सुंदर कुमार की खोज में लग गए। वहीं शक के आधार पर सीमा से सटे सड़क को सील करवा दिया गया।

बताते चले कि लड़के के पिता इंद्रदेव नायक व माता रानी देवी बाबा बैद्यनाथ को जलाभिषेक करने के लिए देवघर गए हुए हैं। पिता इंद्रदेव मिर्जापुर स्थित चौक पर कपड़े की दुकान चलाते हैं। उक्त अपहरण की घटना से पूरे सीमावर्ती प्रखंड लदनियां में सनसनी फैल गयी है।