कोरोना के जरूरी दवाओं के किल्लत के चलते परेशान जनता

116
0
SHARE

मुजफ्फरपुर- जिले में कोरोना महामारी में दवाओं से लेकर मरीजों के उपयोग में आने वाली उपकरणों तक कि किल्लत बाजार में देखने को मिल रहा है और बाजार में ब्लैक मार्केटिंग के चलते सभी चीजे महंगे दर पर मिल रही है।

ऑक्ससिमिटर, रेमेडिसिवीर इंजेक्शन के साथ जिले में एजिथ्रोमाइसिन जैसी कोरोना की सामान्य दवाओं की भी कमी देखने को मिल रही है। शहर की दुकानों में एजिथ्रोमाइसिन के अलावा ‘विटामिन सी’ और जिंक की कमी भी है। यहां लोगों का कहना है कि काफी खोजने पर एजिथ्रोमाइसिन मिल रहा है। ग्राहक यदि तीन पता दवा दुकानदार से मांग रहा है तो उसे सिर्फ एक पता दिया जा रहा है। ऐसे में होम आइसोलोशन में रह रहे लोग संकट में हैं। क्योंकि स्वास्थ्य विभाग को एजिथ्रोमाइसिन दवा होम आइसोलेशन में रह रहे लोगों को मुफ्त देनी है, जो अभी तक नहीं दिया जा रहा है। इधर, अब बाजार में भी यह दवा उन्हें नहीं मिल रही है। ऐसे में मरीज के परिजनों को दवा के लिए परेशानी उठानी पड़ रही है।

ड्रग इंस्पेक्टर उदय बल्लभ कहना है कि लोग कोरोना से घबरा कर अधिक संख्या में एजिथ्रोमाइसिन, ‘विटामिन सी’ और जिंक जैसी खरीद कर रख रहे हैं, जिस कारण बाजार में पर्याप्त मात्रा में ये दवाएं उपलब्ध नहीं हैं। जिन्हें इन दवाओं की आवश्यकता है, अगर वहीं खरीदें तो किसी भी प्रकार की दवा की कमी नहीं होगी। साथ ही उन्होंने कहा कि जल्द ही इस समस्या को दूर कर लिया जाएगा। वहीं रेमेडिसिवीर के बारे में ड्रग इंस्पेक्टर ने बताया की ये दवा तो पूरे बिहार में ही नहीं है।