लाल बालू का काला खेल : डीजीपी ने 7 जिलों के 13 पुलिस अफसरों को किया सस्पेंड, 4 इंस्पेक्टर व 9 एसआई पर गिरी गाज

322
0
SHARE

पटना
डेस्क।
राज्य सरकार के मेगा एक्शन के अगले ही
दिन बिहार पुलिस मुख्यालय ने भी सख्त रवैया दिखाया। लाल बालू की लूट के काले खेल
के मामले में बुधवार को डीजीपी संजीव कुमार सिंघल ने 7 जिलों के कुल 13 पुलिस
अफसरों को ससेपेंड कर दिया। इनमें 4 इंस्पेक्टर और 9 एसआई (दारोगा) के नाम हैं। निलंबित
किए गए इंस्पेक्टरों में पालीगंज (पटना) के पूर्व थानेदार और वर्तमान में सहरसा
(कोसी क्षेत्र) में पोस्टेड सुनील कुमार-2 भी शामिल हैं। बेगूसराय के इंस्पेक्टर अरविंद
कुमार गौतम, भागलपुर (पूर्वी क्षेत्र) के इंस्पेक्टर दयानंद सिंह और पूर्णियां के
इंस्पेक्टर अवधेश कुमार झा भी निलंबित हुए हैं।

सबसे
अधिक कोसी क्षेत्र के 3 अफसर नपे  

सबसे
अधिक कोसी क्षेत्र (सहरसा) के 3 अफसर नपे हैं। इनमें 1 इंस्पेक्टर के अलावा 2
दारोगा (सब इंस्पेक्टर) विजेंद्र प्रताप सिंह व राजेश कुमार चौधरी शामिल हैं। सस्पेंड
दारोगा की सूची में बेगूसराय के कुंवर प्रसाद गुप्ता, चंपारण क्षेत्र के सतीश
कुमार सिंह, भागलपुर (पूर्वी क्षेत्र) के पंकज कुमार, मिथिला क्षेत्र (दरभंगा) के
दिनेश कुमार दास, राजकुमार, मुंगेर क्षेत्र के अशोक कुमार और चंपारण क्षेत्र (बेतिया)
के राम पुकार राम के नाम भी हैं। निलंबन के संबंध में डीजीपी ने आदेश जारी कर दिए
हैं। वैसे, अब तक थाना व सर्किल स्तर के कुल 17 अफसर निलंबित हो चुके हैं। इसके
पहले भी डीजीपी ने मुंगेर, पूर्णिया, मुजफ्फरपुर व बेगूसराय क्षेत्र के एक-एक
दारोगा को निलंबित किया था।

ईओयू
की जांच रिपोर्ट के आधार पर हुई कार्रवाई
 

दरअसल ईओयू (आर्थिक अपराध इकाई) की जांच रिपोर्ट मिलने के बाद यह
कार्रवाई की गई है। निलंबित किए गए 13 पुलिस अफसरों पर संगीन आरोप लगे हैं। डीजीपी
के आदेश में कहा गया है कि ईओयू की जांच रिपोर्ट (प्रतिवेदन) के निष्कर्ष में बालू
के अवैध खनन, भंडारण, परिवहन में अपने दायित्वों का निर्वहन नहीं करने के साथ ही
इसमें संलग्न लोगों (माफिया सिंडिकेट) को मदद पहुंचाने, अवैध खनन व परिवहन में
संलिप्त रहने, अधीनस्थ कर्मचारियों पर प्रभावी नियंत्रण नहीं रखने, संदिग्ध आचरण व
एक अच्छा पदाधिकारी नहीं होने से संबंधी आरोपों की गंभीरता को देखते हुए संबंधित
आरोपी अफसरों को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाता है।

एक दिन पहले 2 एसपी व 4 डीएसपी हुए थे सस्पेंड

बीते मंगलवार को राज्य सरकार ने मेगा एक्शन करते हुए 6 आला पुलिस अफसरों
समेत कुल 17 अफसरों को निलंबित किया था। इनमें 2 आईपीएस अफसर भोजपुर के तत्कालीन
एसपी राकेश कुमार दूबे और औरंगाबाद के तत्कालीन एसपी सुधीर कुमार पोरिका के साथ ही
4 डीएसपी (बिहार पुलिस सेवा के अफसर) पंकज कुमार रावत, अनुज कुमार, संजय कुमार और
तनवीर अहमद शामिल हैं।