“मिशन नितीश”- पीएम मैटेरियल प्रोजेक्ट करने की पहल

81
0
SHARE

पटना: बीते रविवार को जदयू की राष्ट्रीय परिषद की बैठक में नीतीश कुमार को प्रधानमंत्री मैटेरियल बताने के बाद अब “मिशन नीतीश” की चर्चा जोरों पर है। सबसे पहले नीतीश कुमार को पीएम मैटेरियल बताने वाले उपेन्द्र कुशवाहा ने एकबार फिर कहा है कि नीतीश कुमार जब PM मैटेरियल हैं तो बनेंगे भी। “मिशन नीतीश” में नीतीश कुमार को राष्ट्रीय नेता के तौर पर स्थापित करने और दूसरे राज्यों में पार्टी को विस्तार देने की बात हो रही है और इसके लिए राष्ट्रीय स्तर पर उनके व्यक्तित्व का प्रचार-प्रसार करना और उनकी स्वीकार्यता बढ़ाना लक्ष्य बनाया गया है।

नितीश के बयान से “मिशन नितीश” को मिली हवा

पटना में आयोजित राष्ट्रीय परिषद की बैठक में नीतीश कुमार ने कहा था कि पार्टी के सभी नेता पार्टी को राष्ट्रीय दल बनाने का संकल्प लें। इसके लिए चार राज्यों में पार्टी को मान्यता मिलना जरूरी है। उन्होंने कहा था कि पार्टी के विस्तार और मजबूती के लिए सभी नेताओं को अन्य राज्यों में जाना चाहिए और जरूरत पड़ी तो वे भी पार्टी के प्रचार प्रसार के लिए दूसरे राज्य जाएंगें। नीतीश के इसी बयान के बाद ही “मिशन नीतीश” चर्चा में आया।

भविष्य में कुछ भी हो सकता है

हालांकि, उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि हम अपने पार्टी को राष्ट्रीय स्तर पर मजबूत कर रहे हैं और नितीश जी का व्यक्तितव ऐसा है कि भविष्य में इसकी सम्भावना से इनकार भी नहीं किया जा सकता – वैसे हम अभी प्रधानमंत्री के लिए अंक जुटाने का काम नहीं कर रहे। अभी तो NDA के प्रधानमंत्री तो नरेंद्र मोदी जी हीं हैं।

नितीश कुमार ने कहा फालतू बात

आज एक कार्यक्रम के बाद नितीश से पीएम मैटेरियल बाबत प्रश्न पूछे जाने पर इसे फालतू बात कहा।