बेगूसराय जेल के एंबुलेंस ड्राइवर की हत्या, हाथों की नसें काटीं, एसिड पिलाई, फिर गला काटकर फरार हुए हत्यारे

54
0
SHARE

बिहार के बेगूसराय मंडल कारा के एम्बुलेंस वाहन के ड्राइवर की हत्या से इलाके में सनसनी मच गई। ड्राइवर धblर्मेंद्र रजक एक कैदी को पटना से पहुंचाकर वापस लौट रहा था। रजक नगर थाना क्षेत्र के ज्ञान भारती के पास टाइगर मोबाइल दस्ते ने घायल अवस्था में धर्मेंद्र को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया। इलाज के दौरान ही धर्मेंद्र की मौत हो गई। मृतक के दोनों हाथों की नसें कटी हुईं थी। सूचना मिलने के बाद मौके पर पुलिस पहुंची और जांच पड़ताल में जुट गई।

बताया जाता है कि सोवमार देर शाम मंडल कारा में सजा काट रहे गंभीर रूप से बीमार रेफर मरीज कैदी को सदर अस्पताल बेगूसराय से पीएमसीएच में ले गया था। भर्ती कराकर बेगूसराय लौटने के दौरान सुभाष चौक के निकट एनएच 31 पर अपराधियों ने इस घटना को अंजाम दिया गया है।

परिजनों ने बताया कि अपराधियों ने पहले मृतक के दोनों हाथ की नस को काटा, उसके बाद एसिड पिलाई फिर गला काटकर उसे छोड़ मौके से फरार हो गए। दर्द से कराहते जख्मी चालक मदद के लिए रात के अंधेरे में लगातार टॉर्च की रोशनी से लोगों को इशारे करने भरसक प्रयास किया। लेकिन उस जगह कोई नहीं मिला। फिर बाद में रजक नगर थाना क्षेत्र के ज्ञान भारती के पास टाइगर मोबाइल दस्ते ने घायल अवस्था में धर्मेंद्र को इलाज के लिए निजी अस्पताल में भर्ती कराया। उसके बाद इसकी सूचना पुलिस के द्वारा परिजनों को दी गई। आनन-फानन में परिजन उस अस्पताल पहुंचा जहां कुछ देर के बाद ही मृतक धर्मेंद्र रजक की मौत हो गई।