भागलपुर में बेरोजगारों के लिए जल्द खुलेगा नौकरियों का पिटारा

847
0
SHARE

भागलपुर: बिहार के भागलपुर जिले में स्मार्ट सिटी लिमिटेड की 21 दिसंबर को पहली बैठक होने के बाद 47 तरह के महत्वपूर्ण पदों पर नियुक्ति की जाएगी। ये नियुक्तियां कंपनी के कामकाज और इस प्रोजेक्ट के तहत सुविधाएं बहाल करने के की जाएंगी। इनके अलावा काम से जुड़ने वाली एजेंसियों में भी जरूरत के हिसाब से बहाली होगी।

Read More Bhagalpur News in Hindi

पहले चरण में कारपोरेट प्रक्रिया के तहत कंपनी के एक्सपर्ट बहाली होंगे। इसके बाद बाकी पदों की नियुक्ति प्रक्रिया चलेगी। अगले एक सप्ताह में की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। स्मार्ट सिटी कंपनी में हर क्षेत्र के एक्सपर्ट रहेंगे, जो संबंधित प्रोजेक्ट के लिए डीपीआर तैयार करेगी और उसके क्रियान्वयन के साथ-साथ तकनीकी रूप से निगरानी करेंगे।

Read Latest Bihar News in Hindi

नगर आयुक्त सह स्मार्ट सिटी कंपनी के सीईओ अवनीश कुमार सिंह ने बताया कि 21 दिसंबर को पहली बैठक होते ही वेबसाइट पर वेकेन्सी जारी कर दी जाएगी। इसके लिए तमाम प्रक्रिया पूरी कर ली गई है, लेकिन नियमानुसार बोर्ड की बैठक में अनुमोदन होना जरूरी है।

नगर आयुक्त ने बताया कि 47 तरह के महत्वपूर्ण पदों पर नियुक्तियों के बाद पीपीपी मोड पर कई सुविधाएं विकसित होंगी। इनमें ट्रैफिक एंड कंट्रोल सेन्टर, पार्क, इको पार्क, कौशल विकास, स्लम विकास आदि शामिल हैं। इसके लिए जरूरत के अनुसार संबंधित एजेंसी की ओर से स्टाफ रखे जाएंगे। इसमें भी काफी लोगों को काम मिल सकता है।

अभी इन पदों के लिए निकलेगी वेकेंसी

टीम लीडर एंड अरबन मैनेजमेंट एक्सपर्ट, डिप्टी टीम लीडर (मुख्यालय), डिप्टी टीम लीडर-2, अरबन डिजाइनर, सिविल इंजीनियर सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट, अरबन प्लानर, ड्राफ्ट्समैन, कंस्ट्रक्शन मैनेजर और आर्किटेक्ट, पब्लिक ट्रांसपोर्ट, ट्रैफिक सिग्नल और पार्किंग एक्सपर्ट, अरबन ट्रांसपोर्ट प्लानर, लीगल/प्रॉक्यूरमेंट एक्सपर्ट, ह्यूमन रिसोर्स एक्सपर्ट, शिक्षा एवं कौशल विकास विशेषज्ञ, कम्यूनिकेशन एक्सपर्ट और रिसर्जच एनेलिस्ट, सोशल डेवलपमेंट एक्सपर्ट-1 एंड 2, अरबन इंफ्रास्ट्रक्चर एक्सपर्ट, एनर्जी एक्सपर्ट और जीआईएस एक्सपर्ट, क्वांटिटी सर्वेयर और पीपीपी एक्सपर्ट, अकांउंटेंट एंड जूनियर अकाउंटेंट और ऑफिस मैनेजर एंड सपोर्ट स्टाफ आदि।

जनवरी में केन्द्र से आएगा आवंटन

नगर आयुक्त सह स्मार्ट सिटी कंपनी के सीईओ अवनीश कुमार सिंह ने बताया कि बोर्ड की पहली बैठक की कार्यवाही की रिपोर्ट केन्द्रीय मंत्रालय भेजी जाएगी। इसके बाद केन्द्र से आवंटन जारी होगा। उम्मीद है कि जनवरी में आवंटन मिल जाएगा।

श्रोत: हिन्दुस्तान