भारी बारिश के बीच महिलाओं ने कोरोना को देवी मानकर की पूजा, देशवासियों के रक्षा का मांगा वर

140
0
SHARE

KAIMUR: पूरे देश में कोरोना को लेकर हाहाकार मचा हुआ है, वैज्ञानिक दवा खोजने में लगे हुए हैं, वहीं कैमूर जिले में लोगों के बीच अंधविश्वास हावी है. पूरे जिले में कोरोना को माता का स्वरूप मानते हुए उनके गुस्से को शांत करने के लिए पूजा-अर्चना की होड़ लगी हुई है.

जिले के मोहनिया में दर्जनों महिलाओं ने भारी बारिश के बीच में कोरोना को देवी मान कर पूजा अर्चना की. महिलाओं ने पारंपरिक गीत भी गाए. पोखर के तट पर अड़हऊल फूल, लौंग और प्रसाद में लड्डू चढ़ाए.

महिलाएं बताती हैं कि कोरोना से पूरा देश परेशान है, घर के मोबाइल पर एक मैसेज आया, जिसमें दो महिलाएं घास काट रही थी. वहीं एक गाय दूसरे खेत में घास चर रही थी तभी गाय औरत बन कर महिलाओं से कह रही थी कि हम कोरोना माई है हमारी पूजा अर्चना करो, अभी भी कुछ बिगड़ा नहीं है, कई आंधी तूफान आया हमने सबको रोका है नहीं तो बहुत बर्बादी होगी.

इसलिए दर्जनों महिलाओं ने आज भारी बारिश के बीच पोखर के पिंड पर कोरोना को देवी मान कर पूजा अर्चना की. जिसमें 9 अड़हऊल का फूल, नौ लौंग और नौ गुड़ के लड्डू चढ़ाए गए. कोरोना माई से देश और जिले वासियों के रक्षा का मदद भी मांगा गया.

कैमूर से दिलीप की रिपोर्ट