लालू और उनके नेताओं पर लगा ये बड़ा आरोप

423
0
SHARE

पटना राजद में शामिल होना है तो दस लाख और मोबाईल फोन दीजिये। यह आरोप हमारा नहीं बल्कि राजद में शामिल होने वाले मोकामा के पूर्व जिला पार्षद बबलू पाण्डेय का। राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद और उनकी पार्टी एवं उनके नेताओं पर आरोप लगने का सिलसिला फिलहाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। अभी तक राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद और उनके परिवार पर मंत्री, विधायक एवं सांसद बनाने के लिए सम्पत्ति लेने का आरोप लगते आ रहा है।

इस आरोपों से लालू प्रसाद और उनके परिवार की पहले से ही मुसीबतें बढ़ी हुई हैं। अब ताजा मामले में राजद सदस्य बनने के लिए राजद नेताओं ने 10 लाख रुपये और दो मोबाईल फोन लेने का आरोप पार्टी के प्रवक्ता चितरंजन गगन और रघुनाथ झा पर लगाया है। बिहार के मोकामा से पूर्व जिला पार्षद आशीष रंजन उर्फ़ बबलू पाण्डेय ने आरोप लगाते हुए कहा कि 9 जनवरी को मुझे राजद प्रवक्ता चितरंजन गगन ने फोन कर कहा कि आप राजद ज्वाइन कीजिये। रघुनाथ झा भी ज्वाइन कर रहे हैं।

इस पर रघुनाथ झा ने हमें लेकर लालू से मुलकात कराई और बाद में मुझसे कहा कि 10 लाख रुपये और दो मोबाईल फोन पार्टी में दीजिये तब ज्वाइनिंग होगा। उस के बाद रघुनाथ झा के ड्राइवर ने हमसे 10 लाख रुपये लिए और मुझे राजद में ज्वाइनिंग भी नहीं कराया गया। ज्वाइनिंग के समय यह कहते हुए मुझे रोक दिया कि मै अनंत सिंह का शूटर हूं जबकि मेरे ऊपर इस तरह का कोई मामला नहीं है, फिर भी मुझे पार्टी में नहीं ज्वाइन कराया गया और उस के बाद मैं जब अपना पैसा माँगा तो वे लोग मेरा फोन नहीं उठाते हैं।

अब जब कि लालू जेल जाने वाले हैं तो मुझे डर है कि मेरा पैसा मुझे नहीं मिलेगा इसलिए मैं मीडिया में मांग करता हूँ कि अगर मेरा पैसा रघुनाथ झा और चितरंजन गगन नहीं लौटायेंगे तो मैं एफआईआर करूँगा। उन्होंने कहा कि 24 घंटे के अन्दर अगर मुझे पैसा नहीं मिलेगा तो मै लालू प्रसाद और उनकी पार्टी तथा राजद के नेता पर पुलिस कम्प्लेन करूँगा।

दूसरी तरफ इस मामले पर चितरंजन गंगन ने इस आरोप के बाद एक वीडियो जारी कर कहा कि बबलू पाण्डेय जो आरोप लगा रहे हैं वह बिल्कुल गलत और निराधार है। राजद नेता चितरंजन गगन ने कहा कि उन्होंने राजद का पोस्टर-बैनर बिना इजाजत लगाया था, उसी सिलसिले में हमारी बातें जरुर हुई थीं।