शहीद बृज किशोर यादव को श्रद्धांजलि देने पहुंची भारी भीड़

565
0
SHARE

भागलपुर – भागलपुर पीरपैंती के कमलचक गाँव निवासी शहीद बी के यादव का पार्थीव शरीर जब कश्मीर से शहीद के गाँव पहुंचा तो वहां लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। हजारों लोग वीर फौजी के पार्थीव शरीर को देखने उमड़ पड़े।

पार्थीव शरीर को देख कर बी के यादव के परिवार के लोग चीख-चीख कर रोने लगे। उसके बाद शहीद के पार्थीव शरीर को कहलगाँव गंगा घाट लाया गया जहाँ पहले से ही कई पार्टियों के नेता श्रंद्धांजलि देने के लिए मौजूद थे।

बीजेपी नेता शाहनवाज़ हुसैन, कांग्रेस नेता सदानन्द सिंह समेत कई नेता वहां मौजूद थे। वहीं भागलपुर प्रमंडलीय आयुक्त, डीएम, आईजी, डीआईजी, एसएसपी समेत कई प्रशासनिक अधिकारियों ने श्रद्धांजलि दी और बीएसएफ के जवानो के द्वारा गार्ड ऑफ़ ऑनर दिया गया।

आपको बता दें कि दो दिन पहले कश्मीर में आतंकियों से लड़ते-लड़ते बी के यादव शहीद हो गए थे। इस दौरान बीएसएफ के कमांडेंट अलोक कुमार ने बताया कि सरकार डिसीजन लेती है कि पाकिस्तान का क्या करना है, तो वो जो आदेश देंगे, वो वैसा करेंगे। वहीँ भागलपुर डीएम आदेश तितरमारे ने कहा कि शहीद बी के यादव को वीरगति का पहचान देते हुए उनकी पत्नी को 11 लाख रूपये की राशि देने की घोषणा की गई है जो आज ही दे दी जाएगी।

वहीँ वीर जवान ब्रज किशोर यादव के शहीद होने पर मुख्यमंत्री ने शोक संवेदना व्यक्त करते हुए शहीद जवान के आश्रित को राज्य सरकार की ओर से 11 लाख रूपये देने की घोषणा तथा पुलिस सम्मान के साथ होगा अंतिम संस्कार कराने का आदेश दिया था।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बांजीपूरा, कश्मीर में एयरपोर्ट पर तैनात बी0एस0एफ0 के जवान, बिहार के पीरपैंती प्रखण्ड के कमलचक ग्राम के निवासी ए0एस0आई0 ब्रज किशोर यादव की शहादत पर गहरी संवेदना व्यक्त की है और कहा है कि उनकी शहादत को देश हमेशा याद रखेगा। मुख्यमंत्री ने इस वीर सपूत की शहादत पर उनके परिजनों को दुख की इस घड़ी में धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है। उन्होंने कहा है कि पूरा बिहार शहीद के परिवार के साथ है।

मुख्यमंत्री ने शहीद जवान के निकटतम आश्रित को राज्य सरकार की ओर से 11 लाख रूपये अनुग्रह अनुदान दिये जाने की घोषणा की, साथ ही शहीद ब्रज किषोर यादव का अंतिम संस्कार राज्य सरकार की ओर से पुलिस सम्मान के साथ किया जायेगा।

जम्मू-कश्मीर के बारामूला में हुऐ मंगलवार को आतंकवादी हमले में साहेबगंज के रहने वाले बीएसएफ के एएसआई बृज किशोर यादव शहीद हो गये। वह मूल रुप से बिहार के पीरपैंती के कमलचक गांव के रहने वाले थे। शहीद बृज किशोर यादव ने अपना मकान साहेबगंज में बनाया था जहां वह अपने परिवार के साथ रहते थे।

परिवार के लोगों का रो-रो कर बुरा हाल है। परिजनों को बीएसएफ के अधिकारियों के द्वारा बृजकिशोर के शहीद होने की सूचना मिली थी। खबर मिलते ही यहां परिवार के लोगों का रो-रो कर बुरा हाल है। शहीद बृज किशोर यादव अपने पीछे भरा-पूरा परिवार छोड़ गये हैं। उनका एक बेटा और दो बेटियाँ हैं। बेटी ने कहा, 17 नवंबर को घर आने वाले थे पापा।

शहीद की बेटी सुषमा ने बताया कि सात साल से बारामूला में उनके पिता की पोस्टिंग थी। वह मार्च में घर आये थे और 17 नवंबर को फिर से घर आने वाले थे। सुषमा ने बताया कि कल रात दस बजे पापा से अंतिम बार बात हुई थी।

IMG-20171003-WA0160

IMG-20171003-WA0159

IMG-20171003-WA0151

IMG-20171003-WA0150

IMG-20171003-WA0153

WhatsApp Image 2017-10-03 at 9.58.36 PM