Saturday, February 16, 2019

    History

    पटना की मरियम मंजिल अपने अतित को बयां करती यह खूबसूरत इमारत

    पटना: राजधानी पटना की सड़कों से गुजरते हुए जिन इमारतों को देखते हुए हमारी पीढ़ी जवान हुई, वे एक-एक कर गायब होते जा रहे हैं। पटना में अब गिने-चुने इमारत ही बचे रह गए...

    पटना की पत्थर की मस्जिद इंडो-इस्लामिक कला का बेजोड़ नमुना

    पटना: पटना के सुलतानगंज थाना अंतर्गत अशोक राजपथ से गंगा के पर पत्थर की मस्जिद इंडो-इस्लामिक कला का बेजोड़ नमुना है। इस मस्जिद को चिम्मी का भी मस्जिद कहा जाता है। इसका एक और...

    राजधानी पटना का राउजा मस्जिद

    पटना: मगल काल में राजधानी पटना में कई भवनो का निर्माण हुआ खासकर औरंगज़ेब के काल में। उन्हीं भवनों में एक ऐसा भवन है जो राजधानी के गौरव भवनों में शुमार किया जाता है।...

    दानापुर छावनी और स्वाधीनता संग्राम

    पटना: दानापुर छावनी में प्रथम स्वाधीनता संग्राम का प्रारम्भ सिपाहियों के विद्रोह के रुप में 25 जुलाई 1857 को हुआ। तब ईस्ट इंडिया कंपनी की बंगाल फौज स्वेज नहर के पूर्व सबसे बड़ी सैनिक...

    सोमेश्वर की पहाड़ी पर बना सुमेश्वर का किला

    पटना: सुमेश्वर क़िला बिहार के ऐतिहासिक स्थानों में से एक है। यह क़िला पश्चिम चंपारण के रामनगर प्रखंड में स्थित है यह किला समुद्र तल से लगभग 2884 फीट की उंचाई पर स्थित है।...

    पीरदमड़िया मस्जिद… स्थापत्य कला की मिसाल

    मुगल बादशाह जहांगीर के समय बनी थी यह मस्जिद गंगा तट पर स्थित मुगलकालीन पीरदमड़िया मस्जिद स्थापत्य की नायाब मिसाल है। लगभग छ्ह सौ साल पुरानी इस मस्जिद के परिसर मे पीरदमड़िया बाबा, उनके परिवार...

    पावापुरी के जल मंदिर का अदभुत सौन्दर्य

    पटना: बिहार के नालंदा जिले में स्थित पावापुरी शहर है। यह जैन धर्म के मतावलंबियो के लिये एक अत्यंत पवित्र शहर है। जैन धर्म के 24वें तीर्थंकर भगवान महावीर ने निर्वाण यहीं प्राप्त की...

    शेरशाह सूरी का मकबरा: अफगानी स्थापत्य कला का बेजोड़ नमूना

    पटना: सासाराम का नाम सुनते ही दिल व दिमाग में शेरशाह सूरी की तस्वीर बन जाती है वही शेरशाह सूरी जिन्होंने ग्रांड ट्रंक रोड बनवाया था। आज उसी भूमि यानी सासाराम का चर्चा करते...

    शीतला माता मंदिर और अगम कुआं का क्या है रहस्य ?, जानने के लिए...

    पटना: राजधानी पटना के पटना सिटी क्षेत्र में गुलजारबाग रेलवे स्टेशन से एक किमी दक्षिण-पश्चिम में स्थित है। ऐतिहासिक अगम कुआं के करीब शीतला माता का मंदिर है। कहा जाता है कि शीतला माता...

    बड़गांव के सूर्य मंदिर: यहां नहाने से मिलती है कुष्ठ रोग से मुक्ति

    पटना: नालंदा का प्रसिद्ध ओंगारी और बड़गांव के सूर्य मंदिर देश भर में प्रसिद्ध हैं। माना जाता है कि बड़गांव सूर्यमंदिर की स्थापना दूापर युग में हुई थी। भगवान कृष्ण के पुत्र राजा साम्ब...

    कभी रोहतास गढ़ के किला की दिवारों से टपकता था खून..

    पटना: बिहार के रोहतास जिला में स्तिथ रोहतास गढ़ का किला विश्व के प्राचीन व विशाल किलों में शुमार किया जाता है। आज रोहतास गढ़ किला अपने स्वर्णिम इतिहास की जगह उपेक्षा की दास्तां...

    वैभवशाली इतिहास की अतीत को बयां करती विक्रमशिला विश्वविद्यालय

    भारत का इतिहास जितनी पुरानी उतनी ही पुरानी बिहार की भी है। बिहार प्राचीन काल से ही शिक्षा के प्रमुख केंद्र के रूप में विख्यात रहा है। भारत के प्राचीन तक्षशिला विश्वविद्यालय के समान...

    एक चिता पर बना दरभंगा का श्यामा काली मंदिर, जाने पूरी कहानी

    पटना: बिहार के दरभंगा जिले में बहुत सारे मंदिर है उन्ही मंदिरों में एक रामेश्वरी श्यामा काली मंदिर है। इस काली मंदिर का अपना अलग ही पहचान है। मां के इस मंदिर को भक्त...

    लोगों को आकर्षित करता पटना का खुदाबक़्श ओरियेन्टल लाइब्रेरी

    पटना: खुदाबक़्श ओरियेन्टल लाइब्रेरी भारत के सबसे प्राचीन पुस्तकालयों में से एक है। यह पुस्तकालय पटना के अशोक राजपथ पर स्थित है। यह राष्ट्रीय पुस्तकालय 1891 में स्थापित हुआ था। खुदाबक़्श पुस्तकालय की शुरुआत...

    बिहार की अतीत को बयां करती यह शहर..

    पटना: बिहार यानी विहार, जिसका अर्थ ही होता है भ्रमण करना। बिहार पर्यटन की दृष्टि से एक खासा मुकाम रखता है। बिहार में मंदिर, मस्जिद, किले-मकबरे और हजारों ऐसे ऐतिहासिक स्थल हैं, जो यहां...