Friday, November 16, 2018

    History

    विक्रमशिला: ज्ञान का केन्द्र

    आज के भागलपुर के समीप सदियों पूर्व का विक्रमशिला महाविहार हमारी सांसकृतिक विरासत की महत्ता बताता है। विक्रमशिला में प्रवेश के लिए छह द्वार थे। सभी द्वारों पर छह विद्वान द्वार पंडित के रूप...

    सोमेश्वर की पहाड़ी पर बना सुमेश्वर का किला

    पटना: सुमेश्वर क़िला बिहार के ऐतिहासिक स्थानों में से एक है। यह क़िला पश्चिम चंपारण के रामनगर प्रखंड में स्थित है यह किला समुद्र तल से लगभग 2884 फीट की उंचाई पर स्थित है।...

    यहां फलों की दी जाती है बलि

    भागलपुर: आप ने दुर्गापूजा के दौरान पशु बलि देने की बात तो सुनी होगी। लेकिन बिहार के भागलपुर की कालीबाड़ी दुर्गा पूजा समिति में फलों की बलि दी जाती है। यह परंपरा एक या...

    Pawapuri: known as Sinless City

    Pawapuri – the place where Lord Mahavira, founder of Jainism, attained enlightment – is located 38 km from Rajgir and 90 from Patna. Also known as Apapuri or the Sinless City, Pawapuri holds immense...

    Sun Temple : Visit this site and know about temple

    Gayeshvari Devi Temple: This is one of the important temples of Sakta Sect at Gaya and is said to belong to the guardian deity of Gaya. The temple is located at the northern gate of Vishnupada...

    बिहार के इस गांव में अर्ध्य देने से कुष्ठ रोग से मिलती है मुक्ति

    नवादा: लोक आस्था का महापर्व छठ को लेकर कई परंपरा और मान्यताएं है। उन्हीं परंपराओं और मान्यताओं के बीच बिहार के नवादा जिले में स्थित बड़गांव में भगवान सूर्य को अर्ध्य देने की प्रथा...

    यक्षिणी की मूर्ति के सम्मान में 18 अक्टूबर को मनेगा बिहार कला दिवस

    पटना: विश्वविख्यात यक्षिणी की मूर्ति के साथ एक और सम्मान जुड़ गया है। बिहार सरकार ने चामर ग्राहिणी यक्षिणी के सम्मान में यक्षिणी की प्राप्ति तिथि 18 अक्टूबर को हर साल 'बिहार कला दिवस'...

    बिहार का एक गांव ऐसा भी, जहां पैदा हुए 27 स्वतंत्रता सेनानी

    पटना: बिहार के सीवान जिला आए दिन किसी न किसी तरह से चर्चा में रहते है। सीवान जिले के महाराजगंज में एक गांव ऐसा है जहां एक-दो नहीं, बल्कि 27 स्वतंत्रता सेनानी हुए। यह...

    गुरुपर्व में दर्शनीय

    तख्त साहिब गुरु ग्रन्थ साहिब - इसे बड़ा साहिब भी कहा जाता है। जिस पर गुरु गोविन्द सिंह महाराज ने तीर की नोक पर केशर के साथ मूल-मंत्र लिखा था। इसका दर्शन गुरुपर्व व संक्रांति...

    Maner in the ancient period

    Maner is a large village located about 30 Kms west of Patna. Maner was once ‘the residence of a Brahman chief’, which was destroyed by the Muhammadans. That it was n important and a...

    अब इस मंदिर में नहीं दी जाएगी भैंसों की बलि

    बांका: बिहार के बांका जिले में स्थित तेलडीहा दुर्गा मंदिर पशु बलि के लिए प्रसिद्ध है। लगभग चार सौ साल पुरानी यह मंदिर बांका और मुंगेर जिले की सीमा पर और बडुआ नदी किनारे...

    डेढ़ सौ साल पुरानी है यह रेल लाइन

    पटना: तीन डिब्बे की एक ही ट्रेन पटना के आर ब्लॉक से दीघा तक रोज़ दो फेरे लगाती है। ये फेरे सुबह 8:50 बजे और दोपहर 3:05 बजे लगते हैं। शाम में 6:55...

    GURU GOBIND SINGH — virtue to victory 

    Guru Gobind Singh occupies an unparalleled position in history. He was barely nine years old,when his father decided to lay down his life for the protection of Tilak and Janju. The 9th Guru was tortured...

    नमक सत्याग्रह आन्दोलन में चौगाई लोगों की क्या थी भूमिका

    "हर गलियों हर कूचे में लग गई आग आजादी की। चलो हिन्दवों स्वागत करने देवी खड़ी आजादी की।।" 12 मार्च, 1930 को महात्मा गांधी साबरमती आश्रम से ऐतिहासिक दण्डी मार्च पर कूच किये। गांधी के दण्डी...

    पटना की खूबसूरत इमारत सुल्तान पैलेस में बनेगा पहला पांच सितारा होटल

    बिहार के इतिहासिक धरोहरों में से एक पटना का सुल्तान पैलेस का नाम भी शुमार किया जाता है। पटना के वीरचंद पटेल पथ से गुजरते हुए लोगों की नजरें अनायास ही सुल्तान पैलेस पर...