दूसरों को कानून का पाठ पढ़ाने वाली पुलिस खुद दिखी कानून का मजाक बनाते हुए

189
0
SHARE

छपरा – सारण पुलिस अपने कारनामों के लिए हमेशा चर्चा में रहती हैं लेकिन अब जो तस्वीर सामने आई है वो छपरा पुलिस के कार्यशैली पर एक गंभीर सवाल खड़ा कर रही है. जो पुलिस लोगों को क़ानून का पालन करने की बात कहती हैं शायद वो खुद क़ानून को अपना जागीर समझती है शायद इसलिए वो क़ानून को मज़ाक बना कर रख दी है.

साफतौर पर यह तस्वीर कह रही है मुफ्फसिल थाना से आ रहे पुलिस कर्मी रेलवे क्रॉसिंग पार करने के लिए बंद ढाला के नीचे से अपनी स्कूटी को ले जाते नजर आ रहे है. एक महिला दरोगा पुनम कुमारी और दो सिपाही एक स्कूटी को बैरियर ढाला से पार कराते नजर आ रहें हैं.

बता दें कि यह तस्वीर भिखारी ठाकुर चौक के सदर ब्लॉक और सदर ब्लॉक रोड से बाईपास के रास्ते में रेलवे ढाला की है जहाँ पुलिस अपनी परिचय अच्छे तरीके से बता रही है. ये तो क़ानून के अनुयायी हैं जिसपर क़ानून के पालन करने की जिम्मेदारी है. अब आम लोगों से क्या उम्मीद कीजियेगा जब कानून के रखवाले ही क़ानून को तोड़ेंगे?