लोक संवाद कार्यक्रम में एसडीएम के सुझाव से इतने प्रभावित हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कि राजस्व विभाग में भेजने का दे दिया आदेश

1068
0
SHARE

पटना समाचार / संवाददाता- (Patna News)

सोमवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लोकसंवाद कार्यक्रम में एक चौंका देने वाली स्थिति देखने को मिली।

Read More Patna News in Hindi

दरअसल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को उनके ही एक अधिकारी सुझाव देने पहुंचे। लेकिन पता तब चला जब अपने सुझाव से एसडीएम सुबोध कुमार ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को प्रभावित कर दिया। एसडीएम सुबोध कुमार के सुझाव से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इतने प्रभावित हुए कि उनको अंत में पूछना पड़ा कि आखीर आप करते क्या हैं ? जब एसडीएम सुबोध कुमार ने बताया कि वो शेखपुरा में एसडीएम हैं। तब मुख्यमंत्री चौंक गये ! फिर कहा कि इन्हें राजस्व विभाग में भेजीए वहां ये बेहतर काम कर सकते हैं। दरअसल सुबोध कुमार का सुझाव राजस्व विभाग से जुड़ा था। जिसमें उन्होने पहले सुझाव में बताया कि खरीद-बिक्री के पहले आवासीय और व्यवसायिक जमीनों की घेराबंदी की जाए तथा दूसरे सुझाव में बताया कि ज़मीन के लगान रसीद में खाता-खेसरा से लेकर चौहद्दी का ज़िक्र हो। जिसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार हामी भरते नजर आये। पटना जिले के शेखूपुरा में तैनात इस निडर एसडीएम ने मुख्यमंत्री को खुलकर सुझाव दिया। एसडीएम सुबोध कुमार 1996 में आईआईटी बीएचयू से पास आउट किये। यूपीएससी भी दे चुके हैं। पटना के रहनेवाले ये अधिकारी केजरीवाल से लेकर मुख्य न्यायाधीश तक को सुझाव दे चुके हैं। प्रधानमंत्री, मुख्य न्यायाधीश और राष्ट्रपति को सुझाव देने के बाद आज नीतीश कुमार के लोकसंवाद में पहुंच गए। नीतीश पहले उनकी बात को गौर से सुनते रहे। बाद में उन्होंने पूछा आप क्या करते हैं तो सुबोध कुमार ने अपना परिचय दिया। नीतीश ने चौंककर पूछा कि आप एसडीएम हैं !

Read More Bihar News in Hindi in Hindi

सुबोध कुमार ने पहले कहा था कि वो अनुमंडल से जुड़े हैं। फिर कहा कि वो शेखपुरा में एसडीएम हैं।