देश के सबसे बड़े काले धन के कुबेर का हुआ पर्दाफाश

985
0
SHARE

पटना: ब्लैक मनी को व्हाइट करने की मोदी सरकार की आयकर घोषित योजना (आईडीएस स्कीम) के चलते देश के सब से बड़े काले कुबेर का पर्दाफाश हुआ है।
ये शख्स गुजरात के अहमदाबाद का रहने वाला है। इसने अपने पास 13860 करोड़ रुपए काली संपत्ति जाहिर करने की बात जब आईटी के सामने रखी तो वो भी चौंक गया।

इनकम टैक्स विभाग में अर्जी देकर 13860 करोड़ की ब्लैक मनी जाहिर करने वाला ये शख्स अहमदाबाद का रहने वाला है। उसका नाम महेश शाह है। वो करीब 70 साल का है और इम्पोर्ट-एक्सपोर्ट के बिजनेस से जुड़ा हुआ है।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इस शख्स ने स्कीम के आखिरी दिन आईटी डिपार्टमेन्ट को फोन करके करोड़ों की संपत्ति जाहिर करने की बात की थी। इसके लिए आधी रात को ऑफिस खोला गया और और महेश शाह का पैसा लिया गया।

मोदी सरकार की ब्लैक मनी को व्हाइट करने की आइडीएस स्किम 30 सितंबर को खत्म हुई थी, लेकिन महेश वक्त पर अपना फॉर्म भरने से चूक गया।

इस खबर में सबसे बड़ी बात यह है आइडीएस स्किम के आखरी दिन ये शख्स सामने आया था और अपनी करोड़ों की संपत्ति जाहिर करने की बात की थी। इसके ठीक 40 दिन बाद ही मोदी सरकार ने 500 और 1000 रुपए के पुराने नोट रद्द करने का एलान कर दिया।

अब ऐसे में सवाल ये उठता है कि क्या इस शख्स को नोटबंदी का अंदाजा क्या पहले से ही था? इनका पहले से ही पुराने नोट जमा कराने का इरादा था?

इस शख्स की करोड़ों रुपए की अर्जी देखकर आईटी विभाग भी चौंक गया था। हालांकि इस शख्स का राजकोट के एक अन्य व्यापारी के साथ भी कनेक्शन सामने आया है। मामले की छानबीन करके सच को सामने लाने की कोशश की जा रही है।

श्रोत: ईटीवी