पति को अपने बूढ़े पिता का इलाज करवाना पड़ा महँगा!

886
0
SHARE

मुकेश कुमार सिंह

सहरसा – फिर एक बार पति-पत्नी जैसे पाक रिश्तों का सीना हुआ चाक-चाक और शर्मसार हुआ अग्नि को साक्षी मानकर सात फेरों का बंधन। पत्नी ने 39 वर्षीय चिकित्सक पति धरंजय कुमार पर तेज धारदार हथियार से किया जानलेवा हमला। पत्नी के भाई ने मिलकर घटना को दिया अंजाम। पति गंभीर हालत में सदर अस्पताल मे भर्ती। भाई मौके से फरार। पुलिस जख्मी पति केे फर्द बयान को कलम बन्दकर जुटी छापेमारी में। घटना सदर थाना के वार्ड नंबर 15 राधानगर की है। जख्मी चिकित्सक मधेपुरा जिला के कुमारखंड पीएचसी अस्पताल में डेंटिस के पद पर है तैनात, तो वहीँ पत्नी सहरसा जिला के नौहट्टा में शिक्षिका के पद पर है तैनात। चिकित्सक पति को बूढ़े पिता का इलाज करवाना पड़ा पत्नी को नागवार और मौका पाकर अपने भाई के साथ मिलकर पत्नी ने किया पति पर जानलेवा हमला। पहले भी पत्नी ने पति पर किया है कई बार जानलेवा हमला। चिकित्सक पति सहरसा जिला के सलखुआ थाना के बनमा इटहरी ओपी के बोरबा गाँव का रहने वाला।

सात जन्मों तक साथ मरने और जीने की कसम खाने वाली पत्नी नीतू ने सोची समझी साजिश के तहत अपने भाई के साथ मिलकर अपने पति को ऊपर पहुँचाने की नियति से धारदार हथियार से जानलेवा हमला कर पति-पत्नी जैसे पाक रिश्तों को किया जमींदोज। घटना के फ़ौरन बाद ही खून से लथपथ डॉक्टर को होश आ गया और डॉक्टर ने मोबाइल से अपने बड़े भाई को पूरी वारदात की जानकारी दे दी। भाई ने आनन फानन में मौके वारदात पर पहुंचकर खून से लथपथ जख्मी भाई को इलाज के लिए सदर अस्पताल ले आया और डॉक्टर की जान बच गयी।

हालांकि खुद डॉक्टर और उसके परिजन का कहना है कि पत्नी नीतू ने कई बार घटना को अंजाम देने की कोशिश की है लेकिन हर बार हम क्षमा कर देते थे। इस बार भाई के साथ मिलकर हमपर जानलेवा हमला ही नहीं की बल्कि हमे परलोक भेजने की पूरी तैयारी कर दी थी। वहीं घटना के फ़ौरन बाद पुलिस सदर अस्पताल पहुंचकर जख्मी डॉक्टर का फर्द बयान को कलम बंदकर छापामारी में जुट चुकी है।