12 घण्टे में 3 शव बरामद, इलाके में दहशत का माहौल

402
0
SHARE

बेगूसराय – गिड़ती विधि व्यवस्था के बीच एक बार फिर अपराधियों ने हत्याकांड को अंजाम देकर पुलिस के सामने कड़ी चुनौती खड़ी कर दी है। बेगूसराय में आज विभिन्न जगहोँ से 3 हत्या कर फेंकी गई शव बरामद हुआ है। जहाँ अपराधियों ने एक महिला के सर पर गोली मारकर हत्या कर दी है वहीं एक युवक की निर्मम हत्या गला रेत कर कर दी गई है। घटना से लोगों में फैली सनसनी तो वहीं लोगों में आक्रोष है और अब लोग सड़कों पर प्रदर्शन करने की बात कह रहे हैं।

मंगलवार की सुबह जब लोगों की आँख खुली तो लोगों की आँखों में एक बार फिर दहशत का माहौल था। बता दें कि अपराधियों ने एक युवती के सर मे गोली मारकर हत्या कर उसके शव को डंडारी थाना क्षेत्र के पचरूखी गाँव मे फेंक दिया वहीं बलिया थाना क्षेत्र के ईनियार के समीप युवक को फेंक कर अपराधी धड़ल्ले से चलते बने। इस धटना में पुलिस ने धटनास्थल से थोड़ी दुर पर लावारिस हालत में एक बोलेरो गाड़ी को भी जब्त किया है। पुलिस के मुताबिक युवक और युवती की हत्या मे इस बोलेरो गाड़ी का इस्तेमाल किया गया था। पुलिस इस मामले को दोहरे हत्याकांड मान कर जांच कर रही है।

वहीँ 40 वर्षीय अमृता प्रीतम किराए के मकान में रहती थी, उसका पति किराने की दुकान चलाकर जीविकोपार्जन करता था। आज रिफाइनरी गेट संख्या 1 के समीप लोगों ने देखा कि एक महिला लेटी हुई है काफी देर तक जब अन्य कोई प्रक्रिया शरीर मे न होते देख लोगों ने समीप जाकर देखा तो महिला की गर्दन तेज धारदार हथियार से रेता हुआ था, तत्क्षण लोगों ने रिफाइनरी थाना को सूचना दिया मौके पर पुलिस पहुँच कर शव के बारे पता किया। हालांकि पुलिस कुछ भी स्पष्ट अभी नहीं कर रही है।

फिलहाल पुलिस दो शवों की शिनाख्त नहीं कर पाई है, वहीं इस सबंध मे फोरेंसिक टीम को बुलाकर मामले की जांच कराने की बात पुलिस कर रही है। वहीं जिला में लगातार गिड़ती विधि व्यवस्था को लेकर लोगो में आक्रोश है। इस मामले में बसपा के नेताओं ने अपनी कड़ी आपत्ति दर्ज कराते हुए जल्द ही आंदोलन की चेतावनी दी है।

बता दें कि अगस्त महीने से लेकर 4 सितंबर तक सिर्फ बेगूसराय में अब तक एक दर्जन से अधिक लोगों की हत्या कर दी गई है, वही 15 से अधिक लोग गोलीबारी के शिकार हुए हैं जो अभी भी जिंदगी और मौत से जूझ रहे हैं। कहीं ना कहीं बेगूसराय में अपराधी पुलिस को खुली चुनौती देने से बाज नहीं आ रहे और चौकाने वाली बात यह है कि अब तक पुलिस के द्वारा किसी भी मामले का उद्भेदन नहीं हो पाया।