पटना में सीआरपीएफ जवान की पत्नी से दुष्कर्म कर चाकू मार हत्या की कोशिश

455
0
SHARE

पटना: लोक आकस्था के महापर्व छठ के सांघ्यकालीन अर्घ्य की रात पटना में एक युवती की चाकू मारकर हत्या कर दी गई। वादरात में घायल युवती सीआरपीएफ जवान की पत्नी है। उसे गंभीर हालत में नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है।

जानकारी के अनुसार पटना के खाजेकलां इलाके में एक सीआरपीएफ जवान के घर में उसकी पत्नी को अनकेली पाकर पास का ही ओम प्रकाश घुस गया। उसने युवती के साथ दुष्कर्म किया तथा साक्ष्य छिपाने के लिए उसे चाकू मारकर हत्या करने की कोशिश की तथा फरार हो गया। लेकिन, युवती की जान बच गई।

सीआरपीएफ जवान वीरेंद्र कुमार की पत्नी को प्रकाश नामक युवक से प्यार करना भारी पड़ा। प्रेमी ने घर में घुस कर तेज धार दार हथियार से उसके चेहरे पर इतना वार किया की उस महिला के चेहरे पर 30 जगह टाके लगे है । वो दर्द से चिल्लाती रही लेकिन उसके प्रेमी को रहम नहीं आया और वो वार पे वार करता चला गया। जब उसे लगा की महिला की मौत हो गई है तब वह वहां से चुपके से फरार हो गया बाद में महिला को लोगो ने अस्पताल पहुचाया जहां उसकी हालत चिंता जनक बनी हुई है ।

दरअसल यह पूरी घटना पटना सिटी के खाजेकला थाना क्षेत्र के लाला टोली की है जहां सीआरपीएफ के जवान वीरेंद्र कुमार की पत्नी जानकी देवी अपने दो बच्चो के साथ रहती थी। उसके पति वीरेंद्र कुमार सीआरपीएफ के जवान है और अहमदाबाद मे पोस्टेड है।

बताया जाता है कि प्रकाश नामक व्यक्ति जानकी देवी के घर आया जाया करता था। कुछ दिनों पहले ही प्रकाश और जानकी देवी के बीच झगडा हुआ था और आज जब बच्चे छठ पूजा देखने गंगा नदी के किनारे गए। तब घर में जानकी देवी को अकेले पाकर पहले उसके साथ शारीरिक संबंध बनाया और जानकी से कहने लगा मौका अच्छा है। मेरे साथ भाग चलो लेकिन जानकी ने उसके साथ जाने से इंकार कर दिया। उसके बाद प्रकाश गुस्से में आ गया और अपना आपा खो बैठा और उसके चेहरे पर बुरी तरह से वार करता चला गया ।

गुस्से में उसने महिला की एक आंख भी फोड़ डाली। जब उसे लगा की महिला की मौत हो गई है । तब वह वहां से फरार हो गया। बाद में जब महिला को होश आया तब वह किसी तरह घर से बाहर निकल कर चिल्लाने लगी। तब लोगों ने उसे तुरंत अस्पताल पहुंचाया । जहां उसके चेहरे पर डॉक्टरों ने 30 जगह टांके लगाये है ।

फिलहाल अभी जानकी के पुरे चेहरे पर पट्टी लगी हुई है सिर्फ मुह और नाक खुले छोड़ दिए गए है। महिला की हालात नाजुक बनी हुई है । वही घायल जानकी का कहना है कि प्रकाश हमेशा भाग चलने की बात कहता था। आज जब सभी बच्चे छठ देखने गए। तब वह मेरे घर में चुपके से आया और मुझे पीछे से पकड़ कर दूसरे कमरे में ले जाकर मेरे साथ जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाया और फिर से भाग चलने की बात दोहराने लगा। जब मैने मना कर दिया तब मेरे चेहरे पर शुमा से कई बार हमला किया ।

वहीं जानकी की बेटी का ने बताया है की मेरे पिताजी का दोस्त एक आदमी प्रकाश कुमार आता था । मेरी मां उसे चाचा कहने को कहती थी। कल मेरी मां के साथ उसका झगड़ा भी उनका हुआ था और आज जब हमलोग छठ देखने गंगा किनारे गए थे तो मां के साथ यह घटना हुई ।

घायल युवती को गंभीर हालत में पटना के नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। छठ की रात सड़कों पर भारी पुलिस बंदोबस्त के बीच इस घटना के कारण सुरक्षा व्यवस्था की पोल खुल गई है। पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है।