पापा ने कहा था

474
0
SHARE

गया। गया के शहीद सुनील कुमार विद्यार्थी की तीन बेटियों ने पिता के शहीद होने की खबर के बाद अपने जीवन की सबसे कठिन परीक्षा दी। बड़ी बेटी आरती कुमारी डीएवी पब्लिक स्कूल, कक्षा आठ तथा दूसरी बेटी अंशु कुमारी कक्षा छह में है। इन दोनों की सामाजिक विज्ञान विषय की परीक्षा थी। तीसरी बेटी अंशिका कुमारी कक्षा दो की परीक्षा देने स्कूल पहुंच गई। इन तीनों को देख कर ऐसा लग रहा था जैसे वे सैनिक धर्म निभा रही हों। पिता के शहीद होने की सूचना पर भी बेटियां लक्ष्य से नहीं भटकीं। रोते हुए परीक्षा दी। शहीद सुनील कुमार विद्यार्थी की बेटी ने कहा कि पापा ने कहा था कि पढ़-लिखकर आगे बढऩा है। वे शहीद पिता के सपने को पूरा करने के लिए विद्यालय पहुंचीं। विद्यालय के प्राचार्य व शिक्षकों ने साहसी बेटियों को समझाया।