बिहार सरकार के मंत्री, उनके पद और विभाग

829
0
SHARE

download (4)
(1) मंगल पांडेय – बिहार भाजपा के वरिष्ठ नेता हैं और अच्छे संगठनकर्ता के रुप में पहचान हैं पिछले लोकसभा चुनाव और विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा और भाजयुमो दोनों के ये प्रदेश अध्यक्ष रहे चुके हैं। अभी वो हिमाचल प्रदेश प्रभारी हैं।

विभाग– स्वास्थ्य

जन्म -31 दिसम्बर 1972 मूलरुप से ये सीवान के हैं

जाति– ब्राहमण

शैक्षणिक योग्यता – एमए

राजनीतिक गतिविधि– भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश मंत्री, 2000 से 2003 तक भाजयुमो के प्रदेश अध्यक्ष बने। बिहार भाजपा में सुशील मोदी, राधामोहन सिंह और फिर सीपी ठाकुर के प्रदेश अध्यक्षता वाली टीम में प्रदेश महामंत्री रहे। 7 मई 2015 को विधान परिषद के सदस्य बने ।
——————————————————————————————————————-

SureshSharma
(2) सुरेश कुमार शर्मा– भाजपा के वरिष्ठ नेता हैं। पार्टी के विभिन्न पदों पर रहे है। दो बार विस के सदस्य रहे हैं। पहली बार मंत्री पद का दायित्व संभालेंगे।

विभाग– नगर विकास एवं आवास

जन्म– 9 अक्टुबर 1947 मूल रुप से गंगा सागर समस्तीपुर के हैं। उनके पत्नी का नाम राज कुमारी सिन्हा हैं। दो पुत्री व पुत्री हैं।

जाति– भूमिहार

शैक्षणिक योग्यता – इंजीनियरिंग

राजनीतिक गतिविधी– बिहार भाजपा में विभिन्न पदों पर रहे हैं। पहली बार 1994 के संसदीय उप चुनाव में भाजपा से लड़े, मगर हार गये। मुज्फ्फरपुर से 2010 भाजपा के टिकट पर जीतकर पहली बार विस पहुंचे। 2015 के चुनाव में लगातार दुसरी बार जीत मिली।

संपत्ती- चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 11.11करोड़ की संपत्ती है।
——————————————————————————————————————-

vijay
(3) विजय कुमार सिन्हा– छात्र जीवन से ही आरएसएस से जुड़े रहे हैं। भाजपा के सक्रिय कार्यकर्ता तथा कर्मठ नेता के रुप में इनकी पहचान हैं। लखीसराय विधान सभा से आते हैं। पहली बार मंत्री पद को संभालेंगे।

विभाग– श्रम संसाधन

जन्म -5 जुन 1967 शिक्षा सिविल इंजिनियरिंग में डिप्लोमा

जातिभूमिहार

राजनीतिक गतिविधि– 1980 में बाढ़ में पार्टी कार्यकर्ता के रुप में भाजपा में कई पदों पर रहे । 2005 में लगातार चौथी बार भाजपा के लिए टिकट पर बिहार विधान सभा पहुंचे ।

संपत्ती– चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 15.64 करोड़ की संपत्ती है।
——————————————————————————————————————-

RanaRandhir
(4)राणा रणधीर– मंत्री मंडल में नौवजवान चेहरा हैं। राजनीति विरासत में मिली हैं। पहली बार मंत्री बने हैं।

विभाग-सहकारिता

शैक्षणिक योग्यता– बीआईटी मेसरा से सिविल इंजिनियरिंग। 2004 में टिस्को कंपनी में इंजिनियर की नौकरी की

जाति-राजपूत

राजनीतिक गतिविधी – वर्ष 2004 के लोकसभा चुनाव में राजनीति में सक्रिय हुए। 2005 में मधुबन विस राजद के टिकट पर विधायक बनें। पहली बार जीतकर विधान सभा पहुंचे। 2010 में भी भाजपा के टिकट पर लड़े लेकिन सफलता नहीं मिली। 2015 भाजपा की टिकट पर चुनाव में जीतकर दुसरी बार विधान सभा पहुंच। इनकी पत्नी डॉक्टर हैं और एक बेटा हैं।

संपत्ती-चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 93 लाख की संपत्ती है।

——————————————————————————————————————-
KKRishi
(5) कृष्ण कुमार ॠषि – भाजपा के प्रमुख दलित चेहरा हैं। 42 साल के नौजवान ने छुटपन से ही भाजपा के विचारों के बीच अपनी समझ विकसित की। पहली बार मंत्री बने हैं। मंत्री बनाए जाने से आम-जन खुश है।

विभाग कला-संस्कृति

जन्म – 2 मई 1975 शैक्षणिक योग्यता – बीएस (पार्ट-2)

जाति– महादलित

राजनीतिक गतिविधि – अखिल भारतीय विधार्थी परिषद बाल स्वयंसेवी। 2005 में पहली बार बनमनखी से विस के सदस्य बने। फरवरी और फिर नवम्बर का चुनाव जीता। 2010 और 2015 में भी इन्हें बनमनखी की जनता ने बिहार विधान सभा में चौथी बार पहुंचाया।

संपत्ती-चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 93 लाख की संपत्ती है।

——————————————————————————————————————-
BrajKishoreBind
(6) ब्रज किशोर बिंद – बसपा के टिकट पर भभुआ विस से चुनाव लड़े और चुनाव हार गये। बसपा छोड़कर भाजपा में आने के बाद इस दल के साथ डेढ़ दशक से सक्रिय राजनिति कर रहे हैं। पहली बार मंत्री बने है

विभाग-पिछ्ड़ा एवं अतिपिछड़ा

जन्म 1 जनवरी 1996

शैक्षणिक योग्यता– बीए

जाति-अति पिछड़ा

राजनीतिक गतिविधि– 1991 राजनीति में सक्रिय हुए। पहली बार 2005 के उप चुनाव में भाजपा के टिकट पर जीत कर बिहार विधान सभा पहुंचे। 2010 और 2105 में चैनपुर विधानसभा से लगातार जीतकर इन्होनें जीत की हैट्रिक लगाई है।

संपत्ती- चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 1.50 लाख की संपत्ती है।

——————————————————————————————————————
VinodKSingh
(7)बिनोद कुमार सिंह– तीन दशक से अधिक समय से भाजपा में सक्रिय हैं। पहली बार मंत्री बन रहे हैं।

विभाग– खान एवं भूतत्व

जन्म– 14 नवम्बर 1965

जाति– कुशवाहा

शैक्षणिक योग्यता– एमएससी, एलएलबी

राजनीतिक गतिविधि – 1984-85 से एबीवीपी और छात्र राजनीति में सक्रिय। वर्ष 2000 में भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर प्राणपुर से जीत कर पहली बार विधानसभा पंहुचे। 2005 में चुनाव हार गये लेकिन 2010 और 2015 में लगातार जीते। तीसरी बार वे विधान सभा के सदस्य हैं।

संपत्ती– चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 17.10 लाख की संपत्ती है।

——————————————————————————————————————-
ManjuVerma
(8)मंजू वर्मा – मौजुदा कैबिनेट की एक मात्र महिला मंत्री हैं। पिछली बार मंत्री थी।

विभाग– समाज कल्याण

पति चंद्रशेखर वर्मा

जन्म स्थान– बेगूसराय

जाति-कुशवाहा

शैक्षणिक योग्यता– इंटर

निजी व्यवसाय– कृषि

संतान – तीन

राजनीति गतिविधि– छात्र जीवन से ही राजनीति में सक्रिय रही। पार्टी में कई पदों पर काम कर चुकी हैं। विधायक – वर्ष 2010 और 2015 में बिहार विधान सभा की सदस्य बनी।

संपत्ती– चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 2.30 करोड़ की संपत्ती है।

——————————————————————————————————————-
Rishidev
(9)रमेश ॠषिदेव – 1993 से वर्ष से राजनिति में सक्रिय हैं संगठन में कई पदों पर रहे हैं पहली बार मंत्री बने हैं।

पिता– बद्री ॠषिदेव

विभाग– एससी-एसटी कल्याण

जन्म-दिन,जन्म स्थान – गोपालपुर, मधेपुरा 22 जनवरी 1970

जाति– महादलित

शैक्षणिक योग्यता – पीएचडी

निजी व्यवसाय- – कृषि

पत्नी- कंचन कुमारी भारती

संतान– तीन

राजनीतिक गतिविधि – समाजिक अभियान में सक्रिय रहे। पार्टी में कई पदो रहे वर्ष 2010 और 2015 में बिहार विधानसभा के सदस्य हैं।

संपत्ती– चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 1.38 करोड़ की संपत्ती है।

——————————————————————————————————————-
DineshYadav
(10) दिनेश चंद्र यादव – जदयू के वरिष्ठ नेता हैं। काफी दिनों के से राजनीति में सक्रिय हैं पहली बार 2008 में नीतीश सरकार में मंत्री बने। इसके बाद वे लोकसभा सदस्य बन गए तो मंत्री तो मंत्री पद छोड़ना पड़ा। बिहार सरकार में वे दूसरी बार मंत्री बने हैं।

विभाग– लघु सिंचाई, आपदा प्रबंधन

पिता– स्व रामाधारी यादव

जाति– यादव

जन्म तिथि 1 जुलाई 1951 स्थान – सहरसा

शैक्षणिक योग्यता– सिविल इंजिनियर में डिप्लोमा

निजी व्यवसाय– खेती

संपत्ती– चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 2.47 करोड़ की संपत्ती है।

——————————————————————————————————————-
Min-PRD-Kapildeo_Kamat
(11)कपिलदेव कामत– स्थानीय स्तर पर राजनीति व समाजिक आंदोलन में सक्रिय रहें ।

विभाग– पंचायती राज

पिता– स्व अनोखी कामत

जाति– केवट

जन्म तिथि– 11 मई 1957 स्थान –मधुबनी

शैक्षणिक योग्यता– नन मैट्रिक

निजी व्यवसाय – खेती

पत्नी – फूल कुमारी देवी

संतान – छह

राजनीतिक गतिविधि – 2005 और 2015 में विधानसभा के सदस्य बने।

संपत्ती– चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 2 करोड़ की संपत्ती है।

——————————————————————————————————————-
PashupatiKParas
(12) पशुपति कुमार पारस– लोक जनशक्ति पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष पहले मंत्री बन चुके हैं।

विभाग– पशु एवं मत्स्य संसाधान

जन्म स्थान– खगड़िया

शिक्षा– बीए ऑनर्स, बीएड

राजनीतिक गतिविधी– 1997- 1980 अलौली विधान सभा से विधायक 1990-1995 तक वन एंव पर्यावरण राज्य मंत्री, बिहार 1995-1997 तक गृहकारा मंत्री व निबंधन मंत्री, 2005–2010 विभिन्न कमेटियों के सभापति।

संपत्ती– चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 4.32 करोड़ की संपत्ती है।

——————————————————————————————————————-
MadanSahni
(13)मदन सहनी– 1991 से राजनिति में सक्रिय हैं। पहली बार 2010 में विधायक बने।

विभाग– खाद्द एवं उपभोक्ता संरक्षण

जन्म तिथि– 17 मई 1971

जाति– निषाद

शैक्षणिक योग्यता – स्नातक

पिता – स्व बिंदेश्वर सहनी

जन्म स्थान– दरभंगा

राजनीतिक गतिविधि – समाजिक अभियान व समाज के दबे कुचलों के उत्थान के लिए सक्रिय रहे। स्थानीय स्थर पर कई सामाजिक संगठनों की जिम्मेवारी निभाई। 2010 और 2015 में विधायक बने।

संपत्ती-चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 1 करोड़ की संपत्ती है।

——————————————————————————————————————-
FerozAhmad
(14) खुर्शीद उर्फ फिरोज अहमद – प्रखंड प्रमुख से राजनीति की शुरुआत की। 2005 में पहली बार विधायक बने। पहली बार महागठबंधन सरकार में गन्ना उधोग मंत्री बने ।

विभाग– अल्पसंख्यक कल्याण, गन्ना

जन्म 13 फरवरी 1963

जाति– मुस्लिम

शैक्षणिक योग्यता– मैट्रिक

राजनीतिक गतिविधि– पश्चिमी चंपारण के मैनाटांड़ प्रखंड के प्रमुख बने। 2010 में पराजित हो गए। 2005 और 2015 में बिहार विधानसभा के सदस्य बने।

संपत्ती– चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 1.74 करोड़ की संपत्ती है।

——————————————————————————————————————-
santosh
(15) संतोष कुमार निराला – 1990 से राजनीति में सक्रिय है। 2010 में पहली बार विधायक बने। 2105 में पहली बार मंत्री बने।

विभाग– परिवहन

पिता– रामलाल राम

जाति– दलित

जन्म तिथि – 5 अप्रैल 1974

जन्म स्थान– बक्सर

शिक्षा– बीए –एलएलबी

निजी व्यवसाय– कृषि

पत्नी– मंजू कुमारी

राजनीतिक गतिविधि – छात्र राजनीति से सक्रिय हैं। कई दलों में सांगठनिक पदों पर रह चुके हैं। साल 2010 और 2015 में विधायक बने।

संपत्ती– चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 72 लाख की संपत्ती है।

——————————————————————————————————————-
download (5)
(16) प्रेम कुमार – भाजपा के वरिष्ठ नेता हैं। नयी सरकार गठन के पुर्व वे प्रतिपक्ष के नेता थे। अतिपिछड़ा समाज के कदावर नेता हैं।

विभाग– कृषि

जन्म– 5 जुलाई 1995

जन्म स्थल– गया

जाति-कहार

शिक्षा– एमए,एलएलबी,पीएचडी

राजनीतिक गतिविधी– चार दशक से राजनीति में सक्रिय हैं। गया शहर क्षेत्र से सात बार विधायक चुने जाते रहे हैं। 14 अप्रैल 2008 से 25 नव्मबर 2010 से 15 जून 2013 तक नगर विकास मंत्री रह चुके हैं।

संपत्ती– चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 1. 53 लाख की संपत्ती है।

——————————————————————————————————————-
ShravanKumar
(17)श्रवण कुमार – जेपी आंदोलन से राजनिति में हैं और पार्टी के वरिष्ठ नेता हैं। छठी बार विधायक बने हैं।

विभाग-ग्रामीण विकास, संसदीय कार्य

जन्म– 20 अगस्त 1957

जाति कुर्मी

शिक्षा– आईएससी

राजनीतिक गतिविधि– साल 1973 में जेपी आंदोलन से सक्रिय हुए और 1974 व 78 में जेल गए। विधानसभा में मुख्य विरोधी दल व सतारुढ़ दल के मुख्य सचेतक रहे। नालंदा से विधायक हैं। पहली बार 1995 में विधायक बने। मार्च 2000 व नवंबर 2005 व 2010 व 2015 में विधायक।

संपत्ती-चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 1. 85 करोड़ की संपत्ती है।

——————————————————————————————————————-
Ramnarayan
(18) रामनारायण मंडल– जनसंघ के जमाने से समाजिक व राजनितिक क्षेत्र में सक्रिय हैं। पहले भी मंत्री रहे हैं। पांचवी बार विधानसभा के सदस्य हैं।

विभाग-राजस्व एवं भूमि सुधार

जन्म– 15 जुलाई 1953

जाति-वैश्य

शिक्षा– हायर सेकेन्ड्री

राजनीतिक गतिविधि– अपने पंचायत के मुखिया से राजनीतिक सफर की शुरुआत की। फिर प्रमुख बने। 1990 में पहली बार बांका विधान सभा क्षेत्र से जीते। अबतक पांच बार बिहार विस के सदस्य रहे हैं। 2008 से 2010 तक पशु एंव मत्स्य विभाग के मंत्री रहे हैं।

संपत्ती– चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 91 लाख की संपत्ती है।

——————————————————————————————————————-
JKSingh
(19) जय कुमार सिंह – तीसरी बार विधायक बने हैं। जीतन राम मांझी कैबिनेट में पहली बार मंत्री बने। छात्र जीवन से राजनीति में सक्रिय रहे।

विभाग– उधोग एवं विज्ञान प्रावैधिकी

जन्म तिथी– 1 मार्च 1963

जाति– राजपूत

शैक्षणिक योग्यता– बीई सिविल

निजी व्यवसाय– खेती

राजनीतिक गतिविधी– राजनीति में वर्ष 2000 में आए। दिनारा विधानसभा से विधायक चुने। संगठन में कई पदों पर रहे। मांझी कैबिनेट में पहली बार सहकारिता मंत्री बने।

संपत्ती– चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 1.67 करोड़ की संपत्ती है।

——————————————————————————————————————-
800x480_6d3f458d3753f06d3ec2511b0843e426
(20) प्रमोद कुमार– मोतीहारी से विधायक हैं। भाजपा संगठन में भी महत्वपुर्ण भुमिका निभाते रहें हैं। पहली बार मंत्री बने।

विभाग-पर्यटन

पिता –स्व योगेंद्र साह

उम्र – 53 वर्ष

जाति– वैश्य

पता– पुर्वी चंपारण

विधान सभा– मोतीहारी

व्यवसाय– कृषि एंव समाजसेवा

शिक्षा– बीकॉम, एलएलबी

संपत्ती– चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 2. 83 करोड़ की संपत्ती है।

——————————————————————————————————————-
eduminister
(21) कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा – छात्र जीवन से राजनीति में आए। महागठबंधन सरकार में पहली बार मंत्री बने। राजनीति इन्हें विरासत में मिली।

विभाग शिक्षा

जन्म– 1 सितम्बर 1950

जाति– कुशवाहा

शिक्षा– स्नातक

राजनीतिक गतिविधि -सहकारिता आंदोलन के नेता रहे। छात्र जीवन से ही राजनीति में सक्रिय रहे। स्थानीय स्तर पर कई अहम जिम्मेवारियों को निभाया। विधायक 2005 और 2015 में बने

संपत्ती– चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 1 करोड़ की संपत्ती है।

——————————————————————————————————————-
VinodNarayanJha
(22) विनोद नारयण झा – भाजपा के वरिष्ठ नेता हैं। दो बार विधायक रहे हैं। और फिलहाल वे विधान परिषद के सदस्य हैं। भाजपा संगठन में कई जिम्मेदारियां निभा चुके है।

विभाग पीएचईडी

जन्म स्थान– मधुबनी

जाति– ब्राहाण

राजनीतिक अनुभव– पहले कांग्रेस में थे और महत्वपूर्ण जिम्मेदारी निभाते रहे। फिर भाजपा से जुड़े और इस पार्टी के टिकट पर पंडौल विधानसभा क्षेत्र से विधानसभा पहुंचे। 2010 में मधुबनी के बेनीपट्टी विधानसभा से जीते।

संपत्ती– चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 25 लाख की संपत्ती है।

——————————————————————————————————————-
MaheshwarHazari
(23) महेश्वरी हजारी – जदयू के वरिष्ठ नेता हैं। महागठबंधन सरकार में पहली बार मंत्री बने। राजनीति इन्हें विरासत में मिली।

विभाग– भवन निर्माण

जन्म तिथि– 1953

जाति– दलित

शिक्षा – स्नातक

राजनीतिक गतिविधि– छात्र जीवन से आए। विभिन्न राजनीतिक दलों में सांगठनिक जिम्मेदारी निभाते रहे। दो बार विधायक बने । साल 2009 में वर्ष 2005 और 2015 में बिहार विधानसभा के सदस्य बने।

संपत्ती– चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 1. 92 करोड़ की संपत्ती है।

——————————————————————————————————————-
vlcsnap-2016-07-14-12h52m35s818
(24) शैलेश कुमार – 2005 पहली बार विधायक बने महागठबंधन सरकार में पहली बार 2015 में ग्रामीण कार्य मंत्री बने। 1987 से ही स्थानीय स्तर पर राजनीती में सक्रिय रहें।

विभाग– ग्रामीण कार्य

जन्म तिथी – जनवरी 1963

जाति-धानुक

शिक्षा– एमए, इतिहास

राजनीतिक गतिविधि– मुंगेर में बीस सुत्री कार्यक्रम के सदस्य बनें । समता पार्टी के प्रदेश सचिव बने समाजिक आंदोलनों में सक्रिय रहे मार्च व नवम्बर 2005, 2010, 2015 में विस के सदस्य बने।

संपत्ती– चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 1.66 करोड़ की संपत्ती है।
——————————————————————————————————————-
VPYadav
(25) बिजेंद्र प्रसाद यादव – विधान सभा में सातवीं बार जीत कर विधायक चुने गए। जदयू के वरिष्ठ नेता हैं।

विभागऊर्जा उत्पाद, मद्द निषेध

जन्म 10 अक्टूबर 1946

जाति– यादव

शिक्षा – स्नातक (विज्ञान)

राजनीतिक गतिविधि – 1990 में पहली बार विधायक बने। दिसंबर 1990 से 1995 तक राज्य मंत्री उर्जा विभाग 1995 से 97 तक नगर विकास एंव विधि राज्य मंत्री फरवरी 2010 तक निबंधन एंव उत्पाद मंत्री, 2015 में उर्जा एंव वाणिज्यकर मंत्री बने।

संपत्ती– चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 55 लाख की संपत्ती है।

——————————————————————————————————————-
final1111
(26) नंद किशोर यादव – भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष व विस में विरोधी दल के नेता रहे हैं।

विभाग– पथ निर्माण

जन्म– 26 अगस्त 1953

जाति– यादव

पिता– स्व पन्ना लाल यादव

शिक्षा– जेपी के आवाहन पर बीएससी की फाइनल परीक्षा का बहिष्कार

राजनीतिक गतिविधि– 1995 से 2010 पटना पूर्वी से लगातार पांचवी बार विधायक, नवम्बर 2005 में एनडीए वन में पथ निर्माण व पर्यटन विभाग के मंत्री बने अप्रैल 2008 में स्वास्थ्य विभाग के मंत्री बने नवम्बर 2010 में पथ निर्माण विभाग के मंत्री बने।

संपत्ती– चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 47. 55 लाख की संपत्ती है।

——————————————————————————————————————-
images (2)
(27) राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह – जदयू के वरिष्ठ नेता हैं। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष रहे है। बिहार सरकार में पहली मांझी कैबिनेट में पथ निर्माण मंत्री बने।

विभागजल संसाधन एवं योजना

जन्म स्थल– पटना

जाति– भूमिहार

शिक्षा– स्नातक

राजनीतिक गतिविधि– राजनीति में छात्र जीवन से प्रवेश। 1974 में जेपी आंदोलन से सक्रिय हुए। अप्रैल 2000 में राज्यसभा सांसद तो 2004 व 2009 में मुंगेर से सांसद बने। विधान परिषद के लिए मनोनीत हुए।

संपत्ती– चुनाव आयोग को सौंपे गए शपथ पत्र के मुताबिक इनके पास करीब 1 करोड़ की संपत्ती है।