कॉपरेटिव बैंक के निदेशक की हत्या

1138
2
SHARE

लखीसराय- जिले के किऊल खगौर ग्राम पंचायत के पूर्व पैक्स सदस्य सह मुंगेर/जमुई/लखीसराय सेन्ट्रल कॉपरेटिव बैंक के निदेशक रामाकांत यादव को अज्ञात अपराधियों ने गढ़ी विशनपुर स्थित विधापीठ पुल के पास गोली मारकर हत्या कर दी। प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतक रामाकांत यादव प्रतिदिन लखीसराय छोटी दुर्गा स्थान के पास एक दवा दुकान में बैठकर संध्या 6 बजे से लेकर 7 बजे तक अपने मित्रों से बातचीत किया करते थे, और सड़क मार्ग से अपनी मोटरसाइकिल से किऊल स्टेशन स्थित खगौर गांव लौट जाते थे।
WhatsApp Image 2017-10-11 at 10.36.34 PM
लेकिन रोज की तरह वह उसी रास्ते से जा रहे थे। लेकिन रास्ते में पहले से घात लगाए अपराधी उनका इंतजार कर रहे थे। जैसे ही वह पुल के पास पहुंचे पहले से धात लगाये अपराधियों ने उन पर तड़ातड़ गोलियां बरसाना शुरू कर दिया। जिससे रामाकांत यादव की मौके पर ही मौत हो गई। उनके मौत हो जाने के बाद अपराधियों ने उनके शव को खिंच कर किऊल नदी में फेंकना चाहा, लेकिन फेंक नहीं पाये क्योंकि जिस जगह उनकी मौत हुई थी। वह पुल एन एच-80 पर पड़ता है जो काफी व्यस्त इलाका रहने के कारण गोलियों की आवाज से वहां काफी संख्या में गाड़ियां रुक गई। जिससे अपराधियों को मौका नहीं मिल पाया नदी में फेंकने का और अपराधी आकाशवाणी फायर करते हुए भाग निकले।
WhatsApp Image 2017-10-11 at 10.36.02 PMIMG-20171011-WA0218
घटना की जानकारी मिलते ही सैकड़ों लोग पलभर में जुट गये। स्थानीय लोगों ने उनकी पत्नी जो अभी वर्तमान में खगौर ग्राम पंचायत की पैक्स अध्यक्ष है, उनको सूचना दिया। परिजनों के घटना स्थल पर पहुंचते ही आक्रोशित ग्रामीणों ने सड़क जाम कर दिया। मौके पर पहुंची पुलिस को परिजनों ने खरी-खोटी सुनाई।
IMG-20171011-WA0219
परिजनों ने बताया कि इस हत्याकांड में पिपरिया गाँव के रहने वाले शातिर अपराधी है। एक पंचायत के बैठक के दौरान उस फैसले के बाद अंजाम भुगतने की धमकी दिये थे। अन्य ग्रामीणों के अनुसार दो प्रेमी जोड़े को उस फैसले में मिलवाया गया था। प्यार मोहब्बत में भागे लड़का एवं लड़की को मिलाने का इनाम मिला है। इधर पुलिस अनुसंधान में जुटी हैं। शव को कब्जे में लेकर टाऊन थाना लाकर पूछताछ में जुटी है।