दीपावली के अवसर पर बढ़ी श्वसन योग्य धूल-कण की मात्रा, प्रदूषण के बाकी मानक रहे सामान्य

303
0
SHARE

दीपावली के अवसर पर परिवेशीय वायु गुणवत्ता एवं ध्वनि प्रदूषण की स्थिति

पटना – बिहार राज्य प्रदूषण नियंत्राण पर्षद्, पटना द्वारा दीपावली पर्व के दौरान परिवेशीय वायु गुणवत्ता एवं परिवेशीय ध्वनि स्तर की जांच हेतु दीपावली के पूर्व 12.10.2017 को एवं दीपावली के दिन दिनांक 19.10.2017 को बोरिंग रोड चौराहा, पटना पर की गयी। परिवेशीय वायु की जांच सुबह 6 बजे से अगले दिन सुबह 6 बजे तक एवं परिवेशीय ध्वनि स्तर की माप उक्त तिथियों को संध्या 6 बजे से मध्य रात्रि 12 बजे तक की गयी।

दीपावली के दिन परिवेशीय वायु में अन्य दिनों की अपेक्षा गैसों यथा – सल्फर डाइ-आॅक्साइड की मात्रा रात्रि 10.00 से 2.00 बजे तक ज्यादा पायी गयी – 13.83 माईक्रोग्राम प्रति घनीमीटर परन्तु यह मात्रा निर्धारित मानक 80 माईक्रोग्राम प्रति घनीमीटर के अधीन है। नाईट्रोजन डाॅइ-आॅक्साइड की मात्रा सुबह 10.00 बजे से रात्रि 10.00 बजे तक मानक 120.22 से लेकर 128.46 माईक्रोग्राम प्रति घनमीटर के मध्य पायी गयी जबकि इसकी मात्रा रात्रि 10.00 बजे के बाद काफी घट गयी। इसका मानक 80 माईक्रोग्राम प्रति घनीमीटर निर्धरित है यहाँ उल्लेखनीय है कि नाईट्रोजन डाॅइ-आॅक्साइड मात्रा की दीपावली के दिन अन्य सामान्य दिनों की अपेक्षा कम पायी गयी।

श्वसन योग्य धूल-कण (PM 10) की मात्रा सामान्य दिनों एवं दीपावली के दिन निर्धारित मानक 100 माईक्रोग्राम प्रति घनमीटर से ज्यादा पायी गई है। श्वसन योग्य धूल-कण की मात्रा दीपावली के दिन 2.00 बजे अपराह्न से 10.00 बजे रात्रि के दौरान 380 माईक्रोग्राम प्रति घनमीटर पायी गयी। जबकि उक्त समय में दीपावली के पूर्व दिनांक 12.10.2017 को इसकी मात्रा 328 माईक्रोग्राम प्रति घनमीटर पायी गयी। यह दोनों स्तर निर्धारित मानक से ज्यादा है। अन्य दिनों में श्वसन योग्य धूल-कणों की मात्रा ज्यादा पाये जाने का संभावित कारण वाहनों के होने वाला उत्सर्जन हो सकता है। यहाँ यह उल्लेखनीय है कि इस वर्ष दीपावली के दिन रात्रि 10.00 से सुबह 6.00 के मध्य श्वसन योग्य धूलकण के स्तर में काफी कमी दर्ज की गयी है। इसका संभावित कारण पटाखों के छोड़ने में कमी एवं अन्य पर्यावरणीय कारक हो सकते हैं।

तारामंडल स्थित अनवरत परिवेशीय वायु गुणवत्ता प्रबोधन केन्द्र से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार दीपावली के दिन SO2 की मात्रा 19.5 माइक्रोग्राम प्रति घनमीटर दीपावली के पूर्व की मात्रा से 9.5 माइक्रोग्राम प्रति घनमीटर अधिक पायी गयी। NO2 की मात्रा समान्य दिनों के समान पायी गयी। सूक्ष्म धूलकण की मात्रा दीपावली के दिन 80-3µm सामान्य दिनों की 65-5µm की अपेक्षा अधिक रही, परन्तु गत वर्ष 197 माइक्रोग्राम प्रति घनमीटर की अपेक्षा कम रही।

दीपावली के दिन सामान्य दिनों की अपेक्षा ध्वनि-स्तर में मामूली वृद्धि पायी गयी है। सामान्य दिन में औसत ध्वनि-स्तर दिन के समय संध्या 6.00 बजे से रात्रि 10.00 बजे तक 80.4 डेसीबेल (dB (A)Leq) पायी गयी, जबकि दीपावली के दिन इसका स्तर मामूली बढ़त के साथ 82.2 डेसीबेल (dB (A)Leq) पायी गयी। रात्रि समय रात्रि 10.00 बजे से मध्य रात्रि 12.00 बजे तक सामान्य दिन में औसत ध्वनि-स्तर 79.2 डेसीबेल (dB (A)Leq) पाया गया था, जबकि दीपावली के दिन यह स्तर बढ़त के साथ 81.6 डेसीबेल (dB (A)Leq) पाया गया।
इस वर्ष दीपावाली के दिन बोंरिग रोड चैराहा, पटना पर ध्वनि-स्तर लगभग गत वर्षो के समान ही दर्ज की गयी।

pol1