मिट्टी घोटाले को दबाने की कोशिश न करें अफसर, फंसने पर धोना पड़ सकता है नौकरी से हाथ- सुशील कुमार मोदी

377
0
SHARE
PATNA - HOTEL MURAYA ME COMMERCIAL TAX KA MEETING KO SAMBODHITE KARTA SUSHIL MODEY PHOTO - INDRAJIT

बिहार भाजपा के वरिष्ठ नेता और विधान परिषद में विपक्ष के नेता सुशील कुमार मोदी ने मिट्टी घोटाले को लालू प्रसाद के इशारे पर दबाने में लगे अधिकारियों को सख्त हिदायत देते हुए कहा है कि इसे दबाने की कोशिश ना करें नहीं तो उन्हे भी ऩौकरी से हाथ धोना पड़ सकता है।

Read More Patna News in Hindi

जिस तरह करोड़ों रुपये के चारा घोटाले में लालू प्रसाद का साथ देने वाले लगभग आधा दर्जन अधिकारियों को जेल जाना पड़ा था। उसी तरह इसमें भी फंसने पर कार्रवाई हो सकती है। इसलिए अधिकारी सतर्क रहें। लालू प्रसाद के इशारे पर जो सरकारी अधिकारी 90 लाख रुपये का मिट्टी घोटाला दबाने में लगे हैं, उन्हें निसपक्ष होकर काम करना चाहिए न ही तो नौकरी से हाथ धोकर जेल जाना पड़ सकता है। 5 लाख घनफुट मिट्टी को तीन महीने में हाइवा ट्रक की 1 हजार ट्रिप लगाकर पटना जू पहुंचाया गया। इतनी मिट्टी लालू प्रसाद के निर्माणाधीन माल के दो अंडर ग्राउंड फ्लोर के अलावा कहां से मिल सकती थी ?

Read More Bihar News in Hindi

इस मिट्टी की कीमत बिहार वन्यप्राणी संरक्षण कोष से चुकायी गई, जबकि 334.41 करोड़ रुपये से गठित संरक्षण कोष के ब्याज की राशि केवल वन्य प्राणियों के संरक्षण पर खर्च की जा सकती है। कोष के अध्यक्ष के नाते मुख्य सचिव बतायें कि मिट्टी भरायी से प्राणी संरक्षण का क्या वास्ता है? क्या इसके लिए उनसे अनुमति ली गई थी? केंद्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण ने पटना जू के लिए जिस मास्टर प्लान और मास्टर ले-आउट को स्वीकृति दी, उसमें भी मिट्टी भरायी के काम का कोई उल्लेख नहीं है। राज्य सरकार बताये कि बिना प्लान और बिना स्वीकृति के 90 लाख की मिट्टी भरायी का काम कैसे हुआ? इस मामले में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को चुप्पी तोड़नी चाहिये।