सीएसपी संचालक से लूटकांड मामले में चार धरायें

167
0
SHARE

केसरिया – पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। स्थानीय पुलिस ने बीते रात्रि गुप्त सुचना के आधार पर चार लूटेरों को धर दबोचा है। प्राप्त सूत्रों के अनुसार चारों लुटेरा विगत 2 अप्रैल को थाना क्षेत्र के दिलावरपुर हाई स्कूल के समीप हुए सिएसपी प्रमोद कुमार के साथ तीन लाख पच्चीस हजार रुपया सहित एक लैपटॉप व मोबाईल लूट का खुलासा हुआ है।

इस लूटकांड में चारों लूटेरे शामिल थे। जो क्रमशः राजा सिंह उर्फ धनंजय सिंह, मुजफ्फरपूर जिला के बरुराज थाना क्षेत्र अंतर्गत लखनसेन गांव निवासी बताया जाता है इसका वर्तमान पता इसी जिले के साहेबगंज थाना क्षेत्र अंतर्गत प्रतापपट्टी है। जबकि तेलीया छपरा के अनूज कुमार व अहियापुर निवासी शिवम कुमार के साथ केसरिया थाना क्षेत्र अंतर्गत दिलावरपुर निवासी अवनिश कुमार का नाम का खुलासा हुआ है।

इन चारों लूटेरों ने मिलकर सिएसपी संचालक के साथ लूटकांड को अंजाम दिया था। इसकी पुष्टि करते हुए थानाध्यक्ष कंचन भाष्कर ने बताया कि सिएसपी लुटकांड के अभियुक्त राजा सिंह उर्फ धनंजय सिंह पूर्व में हुए कल्याणपूर में पेट्रोल पंप पर लूटकांड सहित अन्य कई कांडों का वांछित अभियुक्त है। अन्य मामलों में चार बार जेल जा चूका है। वहीं तीनों अरोपी का इतिहास भी कुछ सराहने के काबील नहीं है। अनूज, शिवम, अभिनाश तीनों का आपराधिक इतिहास रहा है।

साथ हीं IDFC बैंक लूटकांड सहित पूर्व में अन्य मामलों में भी इनका आपराधिक इतिहास रहा है। वहीं चारों लूटेरों के पास से पांच मोबाईल भी जब्त की गई है। यहां बता दें कि स्थानीय पुलिस प्रशासन के अग्नी परिक्षा के बाद सिएसपी संचालक से लूटकांड के 22 दिन बाद आखिर कार लूटेरे को अपने चंगुल में फांस हीं लिया। तब जाकर स्थानीय पुलिस ने चैन की सांस ली। इस मामले में थाना कांड सं0- 149/19 में चारों लूटेरों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।