प्रेसिडेंसीएल डिबेट में JACP – AISF के उम्‍मीदवार मनीष कुमार ने कहा – जीते तो शिक्षा के साथ सुरक्षा और सम्मान की गारंटी मेरी

941
0
SHARE

पटना : पटना विश्‍वविद्यालय छात्र संघ चुनाव 2019 के प्रेसिडेंसीएल डिबेट में जन अधिकार छात्र परिषद एवं एआईएसएफ संयुक्त मोर्चा के अध्‍यक्ष पद के उम्‍मीदवार मनीष कुमार ने कहा कि अगर वे इस चुनाव में जीतते हैं, तो विवि में शिक्षा के साथ सुरक्षा और सम्‍मान की गारंटी लेते हैं। डिबेट के दौरान मनीष कुमार ने अपनी बातें पूरी मजबूती से रखी। इस दौरान उन्‍होंने कहा कि ईस्ट का ऑक्सफ़ोर्ड कहा जाने वाले पटना यूनिवर्सिटी आज अपने गौरव बचाने के लिए संघर्ष कर रहा है, जिसको लिए दोषी केवल और केवल सत्ता में बैठे लोग है,जो नहीं चाहते कि गरीब और शोषित बच्चे बेहतर शिक्षा प्राप्त कर सके।

मनीष ने कहा कि यदि हम छात्रसंघ चुनाव जीतकर आते है तो छात्र- छात्राओं के लिए गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के साथ सुरक्षा और सम्मान की गारंटी सुनिश्चित करेंगे। विश्वविद्यालय में छात्राओं के लिए शौचालय की व्यवस्था, प्लेसमेंट सेल की स्‍थापना, सेंट्रल लाइब्रेरी को 24 घण्टे खोलने, भयमुक्त माहौल बनाने, सरकारी संगठन को यूनिवर्सिटी से मुक्त करने ,पटना यूनिवर्सिटी को सेंट्रल यूनिवर्सिटी का दर्जा देने, नए छात्रावासों के निर्माण करने और छात्राओं की सुरक्षा के लिए सशक्त जेंडर सेल की गठन कर पुनः पटना यूनिवर्सिटी के गरिमा बहाल करने का काम करेंगे।

प्रेसिडेंसीएल डिबेट से पूर्व जन अधिकार छात्र परिषद एवं एआईएसएफ संयुक्त मोर्चा की ओर से पटना यूनिवर्सिटी की विभिन्न मांगों को लेकर पटना लॉ कॉलेज से पटना कॉलेज तक मार्च निकाल शक्ति प्रदर्शन भी किया गया। इस दौरान संयुक्‍त मोर्चा से उपाध्यक्ष पद के उम्मीदवार अन्नूश्री ने कहा कि यूनिवर्सिटी कैम्पस में छात्राओं के हो रहे शोषण के खिलाफ लड़ेंगे। महासचिव पद के उम्मीदवार बबलू कुमार ने कहा कि पटना यूनिवर्सिटी को सेंट्रल यूनिवर्सिटी के दर्जा दिलाने के लिए आवाज बुलंद करेंगे। संयुक्त सचिव पद के उम्मीदवार आमिर राजा ने कहा कि नए छात्रावासों का निर्माण कराने एवं पुराने छात्रावासों की व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए आवाज उठाएंगे। कोषाध्यक्ष पद के उम्मीदवार राहुल कुमार ने कहा कि कैम्पस में गुंडागर्दी के माहौल को खत्म करेंगे एवं सत्ता के नशे में चूर सरकारी संगठन मुक्त यूनिवर्सिटी को बनाएंगे।

इस छात्र अधिकार मार्च में AISF की ओर से राष्ट्रीय सचिव सुशील कुमार, रंजीत कुमार, भाग्य भारती तथा जन अधिकार छात्र परिषद की ओर से कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष विशाल कुमार, प्रधान महासचिव आज़ाद चांद, अरविंद कुमार, जितेंद्र कुमार, शौकत अली, आजाद चांद, निशांत झा, विनय कुमार, प्रभात कुमार, नदीम, रितेश, सन्नी, इशू, विक्की आदि लोग उपस्थित रहे। वहीं, पटना विश्वविद्यालय में छात्र संघ चुनाव में जन अधिकार छात्र परिषद् और AISF के छात्रों का मनोबल बढ़ाने जन अधिकार पार्टी लो के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव एजाज अहमद,प्रदेश अध्यक्ष रघुपति सिंह, राष्ट्रीय महासचिव सह प्रवक्ता प्रेमचंद सिंह,छात्र प्रभारी राजेश रंजन पप्‍पू, प्रदेश प्रधान महासचिव सूर्य नारायण साहनी, प्रदेश महासचिव शंकर पटेल और बाबूलाल विरोधी भी शामिल थे।