Exclusive – हम नहीं सुधरेंगे

534
0
SHARE

भोजपुर- बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर या सूबे के शिक्षामंत्री लाख दावे कर लें की इस बार परीक्षा के दौरान किसी भी तरह का कदाचार या प्रश्न पत्र वायरल नहीं होगा और कितने ही पैर्टन क्यों न बदल ले लेकिन इनके दावे पूरी तरह से खोखला साबित हो रहा हैं। इस समय बिहार इंटरमीडिएट काउंसिल द्वारा आयोजित इंटर की परीक्षा बिहार में चल रही है। लेकिन इस वर्ष भी परीक्षा में कदाचार चरम पर है परीक्षा के पहले ही दिन बायोलॉजी का प्रश्न पत्र नवादा में वायरल हुआ था उस पर नवादा के डीएम ने इस वायरल पेपर की पुष्टि की थी और बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सफाई दी थी की यह वायरल पेपर गलत है और आगे ऐसा नहीं होगा।

लेकिन आज जो हमें आरा के महाराजा कॉलेज में देखने को मिला यह तो सरकार के दावों का पोल खोलने के लिए काफी है, पिछले कई सालों से परीक्षा को लेकर जिला भोजपुर के साथ साथ पूरा बिहार शर्मसार हो चुका है, इसी क्रम को दोहराते हुए आज फिजिक्स का प्रश्न पत्र आरा के महाराजा कॉलेज में परीक्षा देने आए छात्रों के मोबाइल पर पहले ही वायरल हो गया और परीक्षा केंद्र के बाहर जिला प्रशासन को मुंह चिढ़ाते दावों की हकीकत साफ बयां कर रहा था या कहे की प्रशासन बेबस और छात्र मस्त। छात्रों के चेहरे पर खुशी साफ देखने को मिल रही थी। परीक्षा शुरु होने के पहले ही महाराजा कॉलेज में प्रश्न पत्र वायरल होने की बात सामने आई, जिसके बाद वहां पहुंचे पुलिसपदाधिकारी ने वहां छात्रों पर बल प्रयोग भी किया और वहां से उन छात्रों को भगाया जो चिट तैयार कर रहे थे।

बहरहाल परीक्षा खत्म होने के बाद अनुमंडलाधिकारी अरुण कुमार ने बताया कि वायरल हुए प्रश्न पत्र से आज के परीक्षा का प्रश्न पत्र नहीं मिल रहा है जो पेपर वायरल हो रहा है वो गलत है लेकिन मान लिया जाय की अगर वायरल प्रश्न पत्र सही मायने में सही निकल जाता तो सूबे के शिक्षा व्यवस्था पर सवालिया निशान जरूर खड़ा होता कि आखिर ये कैसी परीक्षा है, क्या बोर्ड सही मायने में परीक्षा ले रहा है या जो मेहनत से पढ़ाई कर परीक्षा दे रहे हैं उन छात्रों से मजाक कर रहा है।

SDM

वहीं महाराजा कॉलेज में 16 परीक्षार्थियों को परीक्षा देने से कॉलेज प्रशासन ने वंचित कर दिया। बताया गया की वे परीक्षा देने लेट से पहुंचे थे।

इन छात्रों को परीक्षा से वंचित किया गया