बिहार की माटी की कहानी है ‘ये इश्क बड़ा बेदर्दी है’ : रोहित राज यादव

156
0
SHARE

पटना – भोजपुरी अभिनेता सह निर्माता रोहित राज यादव ने अपनी फिल्‍म ‘ये इश्क बड़ा बेदर्दी है’ को बिहार की माटी की कहानी बताया और कहा कि इसके एक बड़े हिस्से की शूटिंग बिहार में हुई है। बता दें कि रोहित की फिल्‍म ‘ये इश्क बड़ा बेदर्दी है’ 8 जून को रिलीज हुई है। इसी को लेकर पटना में एक संवाददाता सम्‍मेलन का आयोजन किया गया, जिसमें फिल्‍म की अभिनेत्री गुंजन पंत भी मौजूद रहीं। रोहित राज यादव बिहार से ही आते हैं और उन्हें उम्मीद है कि बिहार में फिल्‍म ‘ये इश्क बड़ा बेदर्दी है’ को बहुत प्यार मिलेगा।

इसको लेकर उन्होंने कहा कि फिल्म की कहानी बेहद इंटरेस्टिंग और इंटरटेनिंग है। फिल्म में प्रेम की उस अवधारणा को आज के परिवेश में पेश किया गया है, जो राधा, मीरा और भगवान कृष्ण की थी। यह यूथ को खूब पसंद आने वाली है। इस फिल्म की कहानी प्रेम के उन अहसासों की अभिव्‍यक्ति है, जिसमें प्रेम भी है, तड़प भी है, इमोशन भी है, रूठना–मनाना भी है। साथ ही इश्क के दुश्मनों से जंग भी है। इसमें मैंने एक्शन के लिए काफी तैयारियां की थी। जिम में घंटों पसीने बहाये, ताकि कहानी के साथ न्याय हो सके। उसका नतीजा भी अच्छा आया और मैंने फिल्‍म को पूरी की। इसलिए पूरे परिवार के साथ सिनेमाघरों में जायें और फिल्म का मजा लें। इसमें रानी चटर्जी और गुंजन पंत के साथ मेरी केमेस्‍ट्री भी काफी खूबसूरत है।

वहीं, अभिनेत्री गुंजन पंत ने कहा कि दर्शकों को एक बार यह फिल्‍म सिनेमाघरों में जाकर जरूर देखनी चाहिए, क्‍योंकि कहीं न कहीं उन्‍हें लगेगा कि यह उनकी ही फिल्‍म है। फिल्‍म ‘ये इश्क बड़ा बेदर्दी है’ कमर्सियल पारिवारिक फिल्‍म है और इसमें मेरा किरदार एक मॉर्डन लड़की की है, जो रोहित राज के प्यार में गांव आती है। फिर जो होता है वो देखने लायक है। वहीं रानी चटर्जी ने इसमें ढाबे वाली का रोल किया है। उनके साथ काम करने में बहुत मजा आया। साथ ही रोहित के साथ काम करने का अनुभव यादगार है। फिल्‍म का क्‍लाइमेक्‍स भी बहुत मनोरंजक है। फिल्‍म के गाने और डायलॉग काफी खूबसूरत हैं। कुल मिलाकर पैसा वसूल फिल्‍म है। कहानी में मजा आयेगा।

बता दें कि फिल्‍म ‘ये इश्क बड़ा बेदर्दी है’ की शूटिंग दमन, मुंबई, पटना और बिहटा के अलग–अलग खूबसूरत लोकेशंस पर की गई है। फिल्‍म के निर्माता बी एन यादव व शिवजी सिंह और निर्देशक राम यादव हैं। फिल्‍म के गाने का निर्देशन रंजय बाबला ने किया है। कहानी रामचंद्र सिंह ने लिखी है। राज प्रेमी, जनार्दन सिंह, सी पी भट्ट, राहुल, पंकज मेहता, साहब लालधारी भी मुख्‍य भूमिका में है। एक्‍शन दिलीप यादव, कोरियोग्राफी संजय कोर्वे, डीओपी बबलू खान-लालजी बेलदार का है।