सीआरपीएफ के दो जवानों की हत्या के मामले में पांच नक्सलियों को फांसी की सजा

1364
0
SHARE

पटना समाचार/ संवाददात- (Patna News) मुंगेर जिले में हुई तीन साल पहले दो सीआरपीएफ जवानों की हत्या के मामले में गुरूवार को पांच नक्सलियों को फांसी की सजा सुनाई गई है। मुंगेर की सिविल कोर्ट ने इस मामले में सजा का ऐलान करते हुए अदालती कार्यवाही कहा कि यह अछम्य है।

Read More Patna News in Hindi

इस मामले में दोषी पाये गये पांचों नक्सलियों को एडीजे वन स्वरूप श्रीवास्तव ने फांसी की सजा सुनाई। ज्ञातब्य हो कि 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान नक्सलियों ने सीआरपीएफ के दो जवानों की हत्या कर दी थी। 2014 में हुए लोकसभा चुनाव के दौरान सीआरपीएफ जवान कैंप से निकलकर ड्यूटी पर जा रहे थे।

Read More Munger News in Hindi

इसी दौरान नक्सलियों ने जवानों पर हमला कर दिया था। हमले में 2 जवान शहीद हो गए थे जबकि 10 घायल हो गए थे। सीआरपीएफ के जवान भीम बांध कैंप से चुनाव कराने के लिए निकल रहे थे तभी सवा लाख बाबा स्थान के समीप 50-60 की संख्या में भाकपा माओवादी के सदस्यों ने बारुदी सुरंग विस्फोट किया था।

Read More Bihar News in Hindi

मुंगेर के अपर सत्र न्यायाधीश प्रथम ज्योति स्वरूप श्रीवास्तव ने भादवि की धारा 302, एवं विस्फोटक अधिनियम की धारा 3, 4, 5 के तहत पांच नक्सली को दोषी ठहराया था। सजा पाने वाले पांचों नक्सली प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के सक्रिय सदस्य बताये जाते हैं। इन पांच नक्सलियों की फांसी की सजा बढ़ते नक्सलवाद के लिए चेतावनी कहा जा सकता है। नक्सलियों को इससे सीख लेने की जरूरत है।