गया रेलवे लाईन के पूर्व में बहुप्रतिक्षित मीठापुर से रामगोविन्द सिंह महुली हॉल्ट तक एलिवेटेड पथ का निर्माण कार्य शुरू

27
0
SHARE

GAYA: रेलवे लाईन के पूर्व में बहुप्रतिक्षित मीठापुर से रामगोविन्द सिंह महुली हॉल्ट तक ए ग्रेड/एलिवेटेड पथ का निर्माण कार्य का शुरू होने जा रहा है। इस संबंध में आज बिहार स्टेट रोड डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लि. के द्वारा फाइनेंशियल बिड खोली गई। जिसमें मेसर्स एफ्कौंन्स इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड की वित्तीय बोली न्यूनतम पायी गयी। प्राक्कलित राशि 816.18 करोड़ के विरूद्ध मेसर्स एफ्कॉन्स इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड द्वारा 79 करोड़ की बोली लगाई। जो कि 18 प्रतिशत प्राक्कलित राशि से कम है। विदित हो कि इस निविदा के लिए एफ्कॉन्स के अतिरिक्त जी०आर० इन्फ्रा प्राजेक्ट्स लि०, एल० एण्ड टी०, जे० एम० सी० प्रोजेक्ट्स, एन०सी०सी० लिमिटेड, रजीत बिल्डकॉन, गावर-सदभाव (जेभी) एवं जी०ई०सी०पी०एल०-टी०एल०एल० ने भाग लिया था।

इस परियोजना की लम्बाई 8.86 किलोमीटर है तथा मीठापुर फ्लाईओवर के दक्षिण-पश्चिम लेन से शुरू होकर महुली में प्रस्तावित आर०ओ०बी० के निकट यह समाप्त होगा। इस पथ के निर्माण से मीठापुर, सिपारा, एतवारपुर, कुरथौल, परसा, महुली बनावट के आवागमन में सुविधा होगी।

पटना प्रमंडल आयुक्त -सह- प्रबंध निदेशक, बिहार स्टेट रोड डेवपलमेंट कॉरपोरेशन लि० संजय कुमार अग्रवाल के द्वारा बताया क्लोज्ड सर्किट कॉरिडोर गया कि यह परियोजना दिसम्बर, 2023 में पूर्ण कराने का लक्ष्य है तथा इसका निर्माण कार्य इसी माह प्रारम्भ किया जाएगा बताया गया कि यह पथ 4-लेन कॉरिडोर का एक भाग होगा यह 4-लेन कॉरिडोर पटना से गया, गया से बिहार शरीफ, बिहार शरीफ से बख्तियारपुर एवं बख्तियारपुर से पटना NH-83, NH-82, NH-31 एवं NH-30 होते हुए विकसित होगा। यह एक Dedicated 4 लेन सड़क बौद्ध तीर्थ स्थल गया एवं राजगीर को संपर्कता भी प्रदान करेगा। उन्होंने यह भी बताया कि इस पथ के निर्माण होने से पटना से गया एवं गया से पटना जाममुक्त यातायात में सुविधा प्रदान करेगी।

इस परियोजना की मुख्य विशेषता निम्न हैं –

इस परियोजना के तहत 2 VUP का निर्माण किया जाना है पहले VUP चाणक्या

विधि विश्वविद्यालय के पास बनाई जाएगी, जिससे गया से पटना आनेवाली यातायात को मीठापुर बस स्टैण्ड रोड में सम्पर्कता प्रदान करेगी तथा दूसरा NH-30

सिपारा फ्लाईओवर के बीच बनाई जाएगी। सुपर गुमटी के ऊपर 2-लेन का ROB भी इस परियोजना में प्रस्तावित है।

परियोजना के तहत 72 मीटर का एक वृहद पुल तथा 7 लघु पुल बनाया जाएगा।

प्रस्तावित पुल सिपारा फ्लाईओवर से सिपारा गुमटी के बीच बनेगी तथा लघु पुल चाणक्या विश्वविद्यालय, इग्नु क्षेत्रीय कार्यालय के पीछे एतवारपुर दुर्गा मंदिर के पास

यादव नगर, कुरथौल, परसा तथा महुली के पास निर्माण होगा। परियोजना की खासियत यह है कि सभी ग्रेड प्रथा एवं एलिवेटेड पथांश

इस परियोजना में Service पथ का भी ध्यान रखा गया है।

इस परियोजना अन्तर्गत सीवरेज/स्टॉर्म ड्रेन का भी प्रावधान है।