प्रेमिका ने रोकी प्रेमी की बारात, प्रेमिका के बदले प्रेमी दूसरी लड़की से रचाने जा रहा था शादी

1752
0
SHARE

दरभंगा/संवाददाता- बिहार के दरभंगा में एक बारात में उस समय खलबली मच गयी, जब एक लड़की ने दूल्हे के गाड़ी के सामने आकर बैठ गयी और दूल्हे को अपना प्रेमी बताकर दूल्हे से शादी करने पर अड़ गयी। मामला बिगड़ता देख दूल्हे के परिजन ने इसकी शिकायत थाने को दी। मौके पर पुलिस पहुंच कर लड़की को समझाने का खूब प्रयास किया, पर सफल नहीं हो पाया। फलस्वरूप शादी के मंडप पर जाने के बदले दूल्हा पहुंच गया थाने में |

Read More Darbhanga News in Hindi

दरअसल मामला दरभंगा के जाले थाना अंतर्गत रेवढ़ा गांव की है, जहां बीती रात बंसी लाल बड़े ही धूम धाम से अपने बड़े बेटे लखेन्द्र कुमार की शादी की तैयारी में जुटे थे। दरवाज़े पर दूल्हे की गाड़ी भी सज चुकी थी। ढोल बाजे के साथ बाराती नाच रहे थे, तो आतिशबाज़ी भी जमकर हो रही थी, पर जैसे ही दूल्हा शादी के लिए गाड़ी पर बैठ निकला। ठीक उसी समय सीतामढ़ी की रहनेवाली दूल्हे की प्रेमिका कांचला का इंट्री होता है और वह सीधे दूल्हे की गाड़ी के आगे आकर यह कहते हुए धरने पर बैठ जाती है की दूल्हे के साथ उसका प्रेम सम्बन्ध है। वह उसके साथ शादी करना चाहती है। उसकी बाते सुन सभी हैरान हो जाते है। दूल्हे के परिवारवाले और बाराती लड़की पर अपने गुस्से का इजहार भी करता है। पर लड़की पर इसका कोइ प्रभाव नहीं पड़ता, फिर लड़के के परिवार वालों ने इसकी सूचना थाने को दी। जिसके बाद पुलिस भी मौके पर पहुंच लड़की को खूब समझाने का प्रयास किया। पर पुलिस भी विफल रही, नतीजतन दूल्हा शादी के मंडप की जगह थाने पहुंच गया |

Read More Darbhanga News

पुलिस को लड़की ने बताया की वह पिछले चार दिन से कुछ नहीं खाया है और उसने कसम खा रखी है की जबतक उसकी शादी उसके प्रेमी के साथ नहीं हो जाती तबतक वह ऐसे ही अनशन करती रहेगी | मामले की नज़ाकत को देखते हुए पुलिस ने जब लड़का और लड़की से बात की तो पता चला दोनों का आपस में प्रेम सम्बन्ध हैं, जो पिछले लगभग साल भर पुराना है लेकिन दोनों ही आपस में शादी करना चाहते थे, पर लड़का लखेंद्र डर के कारण अपने परिवारवालों को कुछ भी नहीं बताया था। लड़की की बात सुनाने के बाद पुलिस ने दोनों ही परिवार के लोगों को आपस में समझौता करा शादी के लिए न सिर्फ तैयार कराया। बल्कि लड़की के शादी के जोड़े के साथ सभी सामन खुद के पैसे खर्च कर खरीददारी की। दरभंगा के शयामा माई मंदिर में उसकी शादी भी कराई । भगवान को साक्षी मानकर हुए इस शादी में अगल-बगल की महिलायें भी आकर लड़की को सजाया, फिर खूब मंगल गीत गाई।

Read More Bihar News in Hindi

बाद में नवदम्पत्ति ने भगवान के साथ-साथ उपस्थित पुलिस वालों के भी पैर छू कर आशीर्वाद लिया। इस विवाह को देखने भारी संख्या में लोग भी उपास्थि हुए थे। बात इतने पे ही ख़त्म नहीं हुई। बल्कि इस कहानी के दूसरे पहलू में एक और मज़ेदार बात हुई जिस लड़की के साथं लखेन्द्र बड़ी ही धूम धाम से शादी करने निकला था। उस लड़की की भी शादी हुई पर दूल्हे लखेन्द्र के साथ नहीं बल्कि लखेंद्र के छोटे भाई सुरेंद्र के साथ। मतलब वह लड़की भी इस घर की बहु बन गयी जिसकी शादी पर कंचला ने ग्रहण लगा दिया था। अब जब सबकुछ हसी खुसी समाप्त हो गया, तो लड़के के पिता ने भी सभी को गले लगा लिया। कहते है ना अंत भला तो सब भला |