पटना के तीन आईपीएस अधिकारियों के लिए अच्छी खबर

260
0
SHARE

पटना – जिले में तैनात भारतीय पुलिस सेवा के तीन अधिकारियों ग्रामीण एसपी ललन मोहन प्रसाद, सिटी एसपी पश्चिम रविन्द्र कुमार और पटना के रेल एसपी जीतेन्द्र मिश्रा को मिली है बड़ी राहत. केंद्रीय गृह मंत्रालय की एक अधिसूचना के मुताबिक ललन मोहन प्रसाद अब २००५ बैच की बजाये २००४ बैच के आइपीएस अधिकारी माने जायेंगे, जबकि रविन्द्र कुमार २००६ के बजाये २००५ बैच के अधिकारी. जबकि जीतेन्द्र मिश्रा भी अब २००५ की बजाये २००४ बैच के अधिकारी होंगे.  

इस तरह देखा जाए तो ग्रामीण एसपी ललन मोहन प्रसाद अब पटना के वर्तमान एसएसपी मनु महाराज से वरीयता क्रम में एक साल वरीय हो जायेंगे. मनु महाराज भारतीय पुलिस सेवा के २००५ बैच के अधिकारी हैं. हालाँकि एम एच ए की इस अधिसूचना का फायदा सिर्फ इन्ही दोनों अधिकारियों को नहीं बल्कि २०१० से आइपीएस कैडर पाने वाले करीब ४२ अधिकारियों को हुआ है. इनमें से कई अधिकारी डीआईजी होकर रिटायर हो गए जबकि कई अभी भी पदस्थापित हैं. लेकिन इस अधिसूचना के बाद कई अधिकारी जो एसपी होकर रिटायर हो गए उन्हें डीआईजी मिलना था जबकि जो डीआईजी होकर रिटायर हुए वो आई जी हो सकते थे.

जानकार बताते हैं कि २०१० में केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा बिहार पुलिस के अधिकारियो को आइपीएस कैडर आवंटित हुआ. इसके बाद २०११ में एक नए नियम के तहत राज्य पुलिस की सेवा में उनके कार्यकाल में संशोधन किया गया था जिसके कारण सभी अधिकारियों का आइपीएस कैडर एक साल घट गया था. लेकिन इस आदेश के बाद मामला कोर्ट में गया जहां चली लम्बी सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट ने फैसला अधिकारियों के पक्ष में दिया. १४ मार्च, २०१८ को केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा जारी अधिसूचना में ऐसे अधिकारियों का कैडर आवंटन वर्ष एक साल कम किया गया है.