गुदरी के लाल ने किया ऐसा कारनामा आप भी जानकर रह जाएंगे दंग

367
0
SHARE

सहरसा: अपने मेहनत और लगन से कारनामे करने वालों की कमी नहीं है। ऐसा ही एक कारनामा बिहार के सहरसा में सुदूर देहात बलुआहा के रहने वाले बीस वर्षीय कारू ने कर दिखाया है। स्नातक की पढाई करने वाले इस गरीब किसान के बेटे कारू ने “जुगाड़ तकनीकी” के सहारे एक ऐसा डोर लॉक डिवाइस बनाया है जो कई स्तरों पर घर की सुरक्षा करता है।

आपको बता दें कि इस डिवाइस में लॉक-अनलॉक के कई विकल्प मौजूद है। ऑटोमेटिक लॉक अनलॉक के अलावा दरवाजे को मोबाइल कॉल के माध्यम से टाइम सेटिंग के द्वारा या फिर फिंगर स्केन के द्वारा भी लॉक अनलॉक किया जा सकता है। इतना ही नहीं गलत आदमी द्वारा इसे छेड़ने पर इसमें ना सिर्फ अलार्म बोलने की सुविधा है बल्कि ये गृहस्वामी या पुलिस को कॉल कर इसकी सुचना भी दे सकता है।

कारू का कहना है कि जुगाड़ तकनीकी के सहारे सीमित संसाधनों के बावजूद ये इतने विशिष्टताओं से युक्त है। अगर कोई मदद मिले तो इसे और भी ज्यादा परिष्कृत और फूलप्रूफ बनाया जा सकता है। भरे पुरे कुनबे के बीच रहने वाले कारू के घरवाले को ये तो पता नहीं कि ये क्या कर रहा है मगर इसके पिता इतना जरूर जानता है कि ये कुछ अच्छा कर रहा है जो मानव जगत की भलाई के लिए ही है।