जिस एरिया में प्रदर्शन पर हाईकोर्ट की रोक है, उस एरिया में राजद का प्रदर्शन क्या जंगलराज को प्रमाणित नहीं करता- पप्पू यादव

442
0
SHARE

दरभंगा समाचार/ संवाददाता- (Darbhanga News) जन अधिकार पार्टी एवं मनोज चौधरी इंसाफ मंच के संयुक्त तत्वाधान में बुधवार को लहरियासराय स्वीट होम चौक पर जिले के चर्चित मनोज चौधरी हत्याकांड में प्रशासनिक विफलता एवं पीड़ित परिवार को न्याय को लेकर एक दिवसीय धरना दिया गया।

Read More Darbhanga News in Hindi

जिसमें जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक सह मधेपुरा सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने कहा कि मनोज चौधरी के हत्याकांड को लेकर कई राजनेता आए और अपने राजनीतिक रोटी सेक कर चले गए, मगर किसी ने भी प्रशासन पर दबाव व उसके परिवार के बारे में नहीं सोचा। इस प्रकार की घटना देश में नई नहीं है, जब लोगों को जिंदा जलाया जाता है और समाज मूकदर्शक बन सब कुछ देखते रह जाता है।

Read More Bihar News in Hindi

देश में किसी भी व्यक्ति समाज के मान-सम्मान व अधिकार पर जब भी आछेप आएगा हम हमेशा उसके अधिकार के लिए आवाज उठाएंगे । वहीं मीडिया से बात करते हुए पप्पू यादव ने राजद सुप्रीमो लालू यादव पर हमला करते हुए कहा कि जो लोग अपने आप को गरीबों का बेटा कहते थे, उसके पास इतनी बड़ी बेनामी संपत्ति और दर्जनों कंपनियां कहां से आई । लालू यादव को जबाब देनी चाहिए कि किसने गरीबों के साथ गंदा मजाक किया है एवं हजारों यादव परिवार को बर्बाद किया है।

Read More Patna News in Hindi

वहीं पटना में भाजपा कार्यालय पर राजद द्वारा किए गए प्रदर्शन व हमले पर उन्होंने कहा अगर जन अधिकार पार्टी आंदोलन करे तो केस ओर जेल हो सकती है तो लालू जी के पार्टी पर अबिलम्ब प्राथमिकी एवं 307 के तहत मुकदमा और दोषियों को जेल क्यों नहीं । जिस एरिया में प्रदर्शन पर हाईकोर्ट की रोक है, उसमें प्रदर्शन करके राजद ने जंगलराज का घिनौना काम किया है।

Read More Bihar News

आगे उन्होंने नीतीश कुमार पर कहा कि बिहार में हिटलर से भी बड़ा तानाशाह का सरकार है, जो भूमाफिया और गुंडों के द्वारा चलती है । हम दोषी को अविलंब गिरफ्तार कर जेल में बंद करने की मांग करते हैं। उन्होने कहा कि बिहार के मुखिया नीतीश कुमार से मांग करते हैं कि लालू जी के पार्टी द्वारा सुशील मोदी पर लगाए गए आरोपों की अबिलम्ब निगरानी से जांच कराये, साथ ही साथ बिहार के सभी नेताओं की संपत्ति की जांच कराकर सार्वजनिक करें ।