महंगाई पर भारी फैशन, शेरवानी व लहंगा ही पसंद

1652
0
SHARE

लखीसराय/ संवाददाता- विवाह के मौसम को लेकर इन दिनों बाजार में काफी तेजी आ गई है। भीषण गर्मी के बीच महंगाई की मार से शादी से जुड़े सामान खरीदने वाले लोग परेशान हैं। बावजूद इसके बाजार में कपड़े, गहने, खाद्य सामग्री की बिक्री बढ़ गई है। गत वर्ष की तुलना में इस वर्ष हर सामान की कीमत लगभग 15 से 20 फीसद बढ़े हैं।

Read More Lakhisarai News in Hindi

खानपान के आइटम में हरी सब्जी की कीमत में तेजी आई है जबकि नानभेज आइटम में मुर्गा की बिक्री पर कोई खास अंतर नहीं पड़ा है। एक अनुमान के अनुसार एक साधारण परिवार को शादी समारोह में कम से कम दो से ढाई लाख रुपए खर्च होते हैं जबकि अधिकतम खर्च चार से पांच लाख रुपए।

Read More Bihar News in Hindi

शादी को लेकर बाजारों में आई तेजी पर महंगाई का असर भी साफ दिख रहा है। बाजारों में दुल्हन के लिए लहंगा तो दूल्हे के लिए राजस्थानी शेरवानी की मांग बढ़ी है। गणगोर वस्त्रालय के प्रोपराइटर विकास ड्रोलिया की मानें तो जयमाला के लिए लहंगा की मांग अधिक है जो तीन हजार से दस हजार तक लोग पसंद कर रहे हैं। वहीं दुल्हे के लिए चार हजार से आठ हजार तक की राजस्थानी शेरवानी पसंद कर रहे हैं। लेकिन ग्रामीण परिवेश रहने के कारण इस तरह के कपड़ों का डिमांड काफी कम है। फैंसी साड़ी की बिक्री बढ़ी है। गत वर्ष की तुलना में करीब 20 फीसद कीमत बढ़ी है। शादी में सोने चांदी का आभूषण लोग अपनी हैसियत के अनुसार अवश्य खरीदते हैं।

Read More Bihar News

वर्तमान में सोना का भाव गत वर्ष से लगभग दो हजार रुपए प्रति दस ग्राम कम है। बावजूद बाजार में सोने की अंगूठी, हल्के वजन वाले आभूषण की मांग बढ़ी है। ज्वैलरी दुकानदारों की मानें तो लगन के हिसाब से बिक्री होती है। शहर के व्यवसायियों की मानें तो गत वर्ष की तुलना में इस वर्ष चीनी, डालडा, रिफाइन, मैदा, आटा, दाल, घी, चावल आदि सामानों की कीमत में कम से कम 15 से 20 फीसद बढ़ोत्तरी हुई है।

Read More Lakhisarai News

जिसका असर खरीदारों पर पड़ रहा है। शादी समारोह में चिकेन से अधिक चाट, गोलगप्पा, चाउमिंग, आइसक्रीम की तेजी से मांग बढ़ी है। नानभेज के आइटम में अव्वल चिकेन की कीमत में कोई खास वृद्धि नहीं हुई है। 10 से 15 रुपए प्रति किलो की कीमत गत वर्ष की तुलना में बढ़ी है। लेकिन इसकी डिमांड काफी कम देखी जा रही है।