नल जल योजना में बिना काम कराये 13 लाख रुपए की निकासी मामला, ग्रामीणों ने वार्ड के खिलाफ आवेदन देकर लगाई गुहार

253
0
SHARE

Munger: जिले के धरहरा प्रखंड के माताडीह पंचायत के वार्ड नं0 2 में वार्ड सदस्य द्वारा नल जल योजना का बिना काम कराए ही 13 लाख रुपए निकासी का मामला हुआ उजागर हुआ है। ग्रामीणों ने वरीय अधिकारियों को आवेदन देकर वार्ड पर कार्रवाई करने के लिए लगाई गुहार। BDO ने वार्ड कार्यवाई करने का दिया आश्वासन।

मुंगेर जिला मुख्यालय से महज 30-35 किलोमीटर धरहरा प्रखंड के माताडीह पंचायत का मासुमगंज मुसहरी गांव आजादी के 70-72 सालों बाद भी बुनयादी सुविधाओ के अभाव का दंश झेल रहा है।पहाड़ के तलहटियों में बसा ये गांव महादलितों का ये गांव है। इस गांव में लगभग 6-7 सौ घर है।इस गांव में न तो सड़क है न ही बिजली और न ही पीने के लिए पानी की व्यवस्था है। इस गांव में कुंआ भी है तो गर्मी के दिनों में प्रायः सुख जाता है।इस गांव के लोग इधर उधर से या फिर जंगल से पानी लाकर अपना व अपने परिवार की प्यास बुझाते है। गांव में चापानल है भी तो वर्षो से खराब पड़ा है।

इस गांव के ग्रामीणों की समस्या को देखते हुए जिला प्रशासन के आला अधिकारियों ने बिहार सरकार की सात निश्चय योजना को स्वीकृति दी। लेकिन वार्ड नं0 2 के वार्ड सदस्य मनोज मधुकर ने योजना को कागजों पर पूरा कर राशि की निकासी करवाली। योजना को लेकर ग्रामीणों की माने तो आज तक एक भी योजना उस महादलित टोला में नही पँहुची है। चुनाव का वक्त आता है तो नेता लोग वोट लेने के लिए उस गांव में जाते है। और ग्रामीणों को सुनहरे ख्वाब दिखा कर लम्बे लम्बे वादे करके चुनाव के बाद लापता हो जाते है।

मासुमगंज मुसहरी वार्ड नं02 के लिए वितीय वर्ष 2018-19क्रियान्वयन समिति ने प्रशासनिक स्वीकृति के बाद नल जल योजना के लिए 13 लाख रुपया पास किया था। जिसे वार्ड सदस्य मनोज मधुकर ने योजना को कागजों पर पूरा कर राशि की निकासी करवाली।जब यह मामला उजागर हुआ तो वहाँ के ग्रामीणों ने जिला के DM से लेकर CM तक वार्ड पर कार्रवाई के लिए आवेदन के माध्यम से गुहार लगाई है।इस मामले में धरहरा के BDO प्रभात रंजन के वार्ड सदस्य से स्पस्टीकरण करते हुए उसपर कार्रवाई करने का आस्वाशन दिया है।