कोरोना से बचाव के लिए ग्रामीणों ने गांव के बाहर की बैरिकेडिंग, हाथ धुलवा कर लोगों को दे रहे एंट्री

223
0
SHARE

KAIMUR: जिले के मोहनिया और भभुआ में ग्रामीणों ने कोरोना से निपटने के लिए अनोखी पहल की है. ग्रामीणों ने अपने मोहल्ले के प्रवेश द्वार पर बैरिकेडिंग कर पहरेदारी शुरू कर दी है. जो भी व्यक्ति बाहर से मोहल्ले में प्रवेश कर रहा है उसका साबुन से हाथ धुलाया जा रहा है और उसे सैनिटाइज किया जा रहा है.

दरअसल कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए पूरे देश को लॉक डाउन कर दिया गया है. जिसका सहयोग करते हुए ग्रामीण ने भी अपने मोहल्ले को पूरी तरह से लॉक डाउन कर दिया है. मोहल्ले के बाहर एक बैरियर लगा दिया गया है, जहां मोहल्ले के कुछ लड़के साबुन पानी और सैनिटाइजर लेकर बैठे हुए हैं. जो भी व्यक्ति बाहर से आ रहा है उसके हाथ को धुलवाकर ही अंदर प्रवेश करने दिया जा रहा है.
इस संबंध में ग्रामीणों का कहना है कि कोरोना वायरस एक महामारी है जो संक्रमित व्यक्ति के कांटेक्ट में आने से फैलता है. इसे रोकने के लिए हमारे प्रधानमंत्री ने पूरे देश को लॉक डाउन कर दिया है, फिर भी कुछ लोग नहीं मान रहे हैं तो हम लोगों ने अपने मोहल्ले को बैरिकेड कर दिया है. जो भी व्यक्ति बाहर से मोहल्ले में प्रवेश कर रहा है उसका हम लोग पहले हाथ धुला रहे हैं. उसके बाद ही अंदर आने दे रहे हैं, जिससे कोरोना वायरस के प्रकोप से हम लोग बच सकें. नहीं तो एक व्यक्ति अंदर संक्रमित हो कर आएगा तो पूरे मोहल्ले वासी को संक्रमित कर देगा। इसी से बचाव के लिए हम लोग ऐसा कर रहे हैं.

कैमूर से दिलीप की रिपोर्ट