लालू यादव भागलपुर मामले को घोटाले का रुप ना दें- संजय सिंह

102
0
SHARE

पटना संजय सिंह ने कहा है कि लालू यादव भागलपुर मामले को घोटाले का रुप ना दें। ये एक वित्तीय अनियमितता है जिसकी जांच हो रही है। लालू यादव पहले अपने ऊपर लगे उन तमाम आरोपों का जवाब दें, जिनमें सीबीआई ने एफआईआर तक कर दिया है। लालू यादव बताएं, ईडी और सीबीआई लगातार उनकी ठिकानों पर छापेमारी क्यों कर रही है ? क्या लालू यादव पूरी तरह से पाक साफ है ? जिस तरह से लगातार ईडी मीसा भारती से पूछताछ कर रही है, लालू यादव को इसका जवाब देना चाहिए ? उनके बेटे तेजस्वी यादव पर सीबीआई ने क्यों एफआईआर किया, लालू यादव को इसका जवाब देना चाहिए ? उनके ठिकानों पर लगातार छापेमारी हुई, छापेमारी क्यों हुई , लालू यादव को इसका जवाब देना चाहिए ।

नीतीश कुमार ने भागलपुर मामले में उच्च स्तरीय जांच करने के आदेश दे दिए हैं। भागलपुर जिले में सरकारी राशि को एनजीओ के खाते में ट्रांसफर कर गबन किए जाने के इस मामले की जांच शुरू कर दी गई है। इस वितीय अनियमितता की जांच के लिए राज्य सरकार के निर्देश पर पटना से आर्थिक अपराध इकाई के आई जी जितेंद्र सिंह गंगवार समेत पांच अधिकारियों का दल विशेष विमान से जांच के लिए भागलपुर भेजा गया है। इस मामले में अब तक बैंक ऑफ बड़ौदा, इंडियन बैंक और एनजीओ सृजन के विरोध में तीन केस दर्ज किए गए हैं। दोनों बैंकों के अधिकारियों और सृजन के पदाधिकारियों से पूछताछ की जा रही है। हालांकि यह मामला 2008-09 से चला आ रहा है, लेकिन इसका खुलासा हो चुका है। लालू यादव, ये सुशासन का राज है , नीतीश कुमार ना किसी को फंसाते हैं और ना ही किसी को बचाते हैं।

लालू यादव, आपकी जानकारी के लिए बता दे कि बिहार सरकार की ओर से राज्य के सभी प्रधान सचिव, सचिव, विभागाध्यक्ष, प्रमण्डलीय आयुक्त और जिलाधिकारी को निर्देश दिया गया है कि वे अपने कार्यालय में संधारित सभी बैंक खातों का अद्यतन बैंक स्टेटमेंट प्राप्त कर रोकड़ बही से उसका मिलान करा लें और किसी प्रकार की गड़बड़ी पाये जाने पर दोषी व्यक्तियों को चिन्हित कर उनके विरूद्ध विधि सम्मत कार्रवाई की जाए। ये काम सुशासन के राज में ही होता है । सरकार पारदर्शी तरीके से काम कर रही है और इन मामले में जो भी दोषी होंगे वो सलाखों के पीछे जाएंगे ।