मत्स्य संपदा योजना का शुभारंभ, मछुआरों की आमदनी में वृद्धि का लक्ष्य

35
0
SHARE

PATNA: बिहार में मत्स्य संपदा को बढ़ावा देने के लिए प्रधानमंत्री के माध्यम से एक विशेष पैकेज की घोषणा की गई है. इस घोषणा के होते ही विभाग ने काम करना भी शुरू कर दिया है. कृषि पशु और मत्स्य संपदा विभाग के मंत्री प्रेम कुमार ने बताया कि विशेष पैकेज योजना के अंतर्गत रियरिंग तालाब का निर्माण, आर्द्र भूमि का विकास, नए तालाब का निर्माण और प्रथम वर्ष में इनपुट योजना की शुरू का शुरुआत कर दी गई है.

मछुआरों की आमदनी में वृद्धि करने का लक्ष्य

इस योजना का उद्देश्य राज्य में मछली उत्पादन को बढ़ाने के साथ-साथ मछुआरों की आमदनी में भी वृद्धि करना है. इस योजना के अंतर्गत रियरिंग तालाब के निर्माण के लिए प्रति इकाई लागत 6 लाख रुपये प्रति हेक्टेयर, आर्द्र जल भूमि के विकास के लिए प्रति हेक्टेयर 5 लाख रुपये और नए तालाब के निर्माण के लिए प्रति हेक्टेयर 7 लाख रुपये निर्धारित की गई है. इसके साथ ही प्रथम वर्ष में इनपुट के लिए प्रति इकाई लागत1.5 लाख रुपये प्रति हेक्टेयर निर्धारित है.