पटना हवाई अड्डा पर्यावरण प्रबंधन समिति की बैठक सम्पन्न

315
0
SHARE

प्रमंडलीय आयुक्त श्री आनन्द किशोर की अध्यक्षता में हुई पटना हवाई अड्डा पर्यावरण प्रबंधन समिति की बैठक। विमानों के निर्बाध आवागमन की संभावित बाधाओं को दूर करने के लिए विभिन्न विभागों के बीच प्रभावी समन्वय के साथ किये जायेंगे बहुआयामी प्रयास।

Read More Patna News in Hindi

निदेशक, भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण, पटना द्वारा बताया गया कि प्रत्येक क्षेत्र में भवनों की उँचाई के लिए अलग-अलग मानक तय हैं, परन्तु कई भवनों का निर्माण निर्धारित मानक के विपरीत किए गए हैं। समीक्षा के क्रम में यह बात प्रकाश में आई कि 2013 में ऐसे कुछ मामलों की सूची नगर परिषद् फुलवारी को उपलब्ध करायी गयी थी जिसे प्राधिकरण को भेजा गया।
आयुक्त द्वारा कार्यपालक पदाधिकारी नगर परिषद् फुुलवारी को निर्देश दिया गया कि ऐसे मामलों में नगर परिषद के स्तर से क्यों नहीं कार्रवाई की गयी एवं इस संबंध में प्रावधानों के साथ 5 दिनों के अंदर प्रतिवेदन समर्पित करें। आयुक्त द्वारा स्पष्ट किया गया अगर प्रावधान में नगर परिषद के स्तर से अनाधिकृत भवनों को तोड़ने का अधिकार है तो इन मामलों के संबंध में नए सिरे से पुनः नगर परिषद फुलवारी में ही निगरानी केस दर्ज करते हुए उन्हें तोड़ने हेतु आदेश पारित कर समुचित कार्रवाई की जाएगी।

Read More Bihar News in Hindi

आयुक्त द्वारा निर्देश दिया गया कि रेलवे तथा वन विभाग हवाई अड्डा के चाहरदीवारी के बाहर 15 मीटर (50 फीट) के क्षेत्र में लगे सभी पेड़ो को कटवाएँ जिसमें चाहरदीवारी से 20 फीट के क्षेत्र में कोई पेड़-पौधा नहीं हो। वहाँ सी0आई0एस0एफ0 कमान्डेन्ट की पेट्रोलिंग करने का निर्देश दिया गया।
बिहार स्टेट हैंगर को निर्धारित मानक के अनुसार सुरक्षित क्षेत्र बनाने हेतु एक्स-रे मशीन, हैण्डल मशीन डिटेक्टर और डोर मेटल डिटेक्टर लगाने हेतु वरीय पुलिस अधीक्षक के स्तर से तथा हवाई अड्डा की ओर से सुरक्षा मानाको के अनुरूप कार्रवाई समादिष्ट सी0आई0एस0एफ0 के स्तर से करने का दिया गया निर्देश।
आयुक्त द्वारा निर्देश दिया गया कि कार्यपालक पदाधिकारी, नूतन राजधानी अंचल, पटना नगर निगम और विमानपत्तन प्राधिकरण, पटना के अभियंता पटना हवाई अड्डो के नजदीक से होकर गुजरने वाले नाले और ड्रेनेज सिस्टम का निरीक्षण करेंगे तथा उसकी अपेक्षित उढ़ाही एवं सफाई सुनिश्चित करायेंगे।

Read More Patna News

हवाई अड्डा की सुरक्षा के प्रति आम लोगों को किया जायेगा जागरूक।
हवाई अड्डा परिसर और आसपास के क्षेत्रों के पेड़ों की छंटाई एवं घासों की कटाई प्रति छह माह में करने का दिया गया निर्देश। वन विभाग एवं विमानपत्तन प्राधिकरण के प्रतिनिधि संयुक्त रूप से पेड़ों की छटाई के संबंध में निरीक्षण कर संतुष्ट हो लेंगे एवं तदनुसार अपना प्रतिवेदन समर्पित करेंगे।
रेलवे द्वारा बताया गया कि पूर्व में दिये गये निर्देश के आलोक में विमानपत्तन द्वारा चिन्हित किये गये वैसे पोल जो उड़ान/लैंडिंग में बाधा उत्पन्न करते थे, उन पर चेकर्स पेंटिंग करा लिया गया है। अयुक्त द्वारा निर्देश दिया गया कि इन पोलों को और सुरक्षित करने के लिए Obstruction Light लगाने के दिशा में भी शीघ्र कार्य करें।
पटेल चौराहा से आई0ए0एस0 भवन तक ट्रैफिक लाईट लगाने के बिन्दु पर कार्यपालक पदाधिकारी नूतन राजधानी अंचल एवं विमानपत्तन प्राधिकरण के तकनीकी पदाधिकारी को संयुक्त रूप से ट्रैफिक लाईट की डिजाईनिंग करने का दिया गया निर्देश। आयुक्त द्वारा बताया गया कि ट्रैफिक लाईट की डिजाइन एवं ऊँचाई इस तरह का हो कि विमानों को उतरने एवं उड़ान भरने में दिक्कत न हो। प्रथमतः प्रयोग के तौर पर ऐसे दो स्ट्रीट लाईट लगाये जायें एवं सफल परिणाम आने पर स्ट्रीट लाईट लगाने के संबंध में अग्रेतर निर्णय लिया जायेगा।
नगर आयुक्त को निर्देशित किया गया कि हवाई अड्डा परिसर एवं हवाई अड्डा परिसर के आसपास के क्षेत्रों में नियमित/मांग के अनुरूप फाॅगिंग कराना सुनिश्चित करें।

Read More Bihar News

पटना हवाई अड्डा के सभागार में आज सम्पन्न उक्त बैठक में निर्देशक, विमानपत्तन प्राधिकरण, पटना, समादेष्टा, सी0आई0एस0एफ0, पटना, नगर कार्यपालक पदाधिकारी, नूतन राजधानी अंचल, पटना, एयरपोर्ट बिहटा के विंग कमान्डर के अलावा इंडिगो, गो एयर लाइन्स, एयर इंडिया, वन विभाग और नगर परिषद् फुलवारीशरीफ के अलावा अन्य संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थे।
बैठक के उपरांत आयुक्त द्वारा हवाई अड्डा परिसर का निरीक्षण किया गया तथा किये जा रहे कार्यों की की गयी समीक्षा।
हवाई अड्डा के विस्तारीकरण, बिहटा में हवाई अड्डा के निर्माण की दिशा में ली गई जानकारी।
हवाई अड्डा के विस्तारीकरण के उपरांत स्टेट हैंगर के निमार्ण के लिए चिन्ह्ति स्थल का भी किया गया निरीक्षण।
निरीक्षण के क्रम में निर्देशक द्वारा बताया गया कि वर्तमान में हवाई अड्डा 90X50 मीटर की है तथा इसकी क्षमता 5 लाख यात्री प्रतिवर्ष है जबकि वर्तमान में 28 उड़ाने प्रतिदिन इस हवाई अड्डा से भरती है तथा प्रतिवर्ष 20 लाख यात्रियों का आवागमन हवाई अड्डे से होता है।
हवाई अड्डा के विस्तारिकरण का प्रथम चरण 2019 में तथा द्वितीय चरण 2020 तक पूर्ण कर लिया जायेगा।
हवाई अड्डा के विस्तारिकरण के उपरांत इसका आकार 245X50 वर्गमीटर हो जायेगा तथा इसकी क्षमता बढ़कर 50 लाख यात्री प्रतिवर्ष हो जायेगा।
आयुक्त द्वारा निदेशक बिहार राज्य विमान्न विभाग को निर्देश दिया गया कि स्टेट हैंगर की भूमि शीघ्र अति शीघ्र उपलब्ध करवाना सुनिश्चित करें ताकि प्रथम चरण का विस्तारीकरण का कार्य शीघ्र अतिशीघ्र प्रारंभ किया जा सके। आयुक्त द्वारा बताया गया की एस0टी0एफ0 की भूमि पूर्व में ही उपलब्ध करा दी गयी है।