नोटबंदी पर तेजस्वी ने मोदी सरकार को किया चैलेंज

596
0
SHARE

पटना: बिहार विधानमंडल के शीतकालीन सत्र के अंतिम दिन उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने पीएम मोदी पर जमकर हमला किया। शुक्रवार को मीडिया से बात करते हुए तेजस्वी यादव ने पीएम मोदी को कालाधन के मुद्दे पर दोहरी नीति अपनाने का आरोप लगाया।

तेजस्वी ने कहा कि चंडीगढ़ में लाखों के नकली नोट पकड़े जाने की सूचना मिली है। राजद नोटबंदी के खिलाफ नहीं है बल्कि नोटबंदी को लागू करने के तरीके के खिलाफ है। नोटबंदी को सीक्रेट रखने में सरकार नाकाम रही। तेजस्वी ने नए आयकर कानून पर हमला बोलते हुए कहा कि आप जो नया आयकर कानून लेकर आये हैं जिसमें फिफ्टी-फिफ्टी की बात कही जा रही है, हमारी पार्टी का मानना है कि इसमें एक रुपये का भी घालमेल करने वाले को सजा दी जाए।

उन्होंने कहा कि एक रुपये का भी कालाधन किसी के पास मिले तो वह चोर है। उसको सरकार जेल भेजे और सजा दे। उसकी संपत्ति को जब्त कर उसके नाम को उजागर करना चाहिए। देश के सामने ऐसे नाम को लाना चाहिए।

केंद्र सरकार द्वारा दोहरी नीति अपनाकर कालाधन को जो सफेद करने का काम चल रहा है। भाजपा के लोगों ने जो निकालने का काम किया है। उसका हम कड़ा विरोध करते हैं। अब जो सौ रुपये चुराता था वह आगे अब दो सौ रुपये चोरी करेगा। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि फिफ्टी-फिफ्टी का स्कीम लाकर कालाधन वालों को बढ़ावा दिया जा रहा है।

तेजस्वी यादव ने यह भी कहा कि अब कहा जा रहा है कि भाजपा के विधायक और सांसद अपना एकाउंट डिटेल मुहैया कराएं। उसकी समीक्षा अमित शाह करेंगे। तो हमलोगों की मांग है कि आठ नवंबर को घोषणा हुई थी। अब मांगने का क्या औचित्य है।

तेजस्वी यादव ने कहा है कि मांगना ही है तो जनवरी 2016 से मांगें। जब से आपकी सरकार बनी है तब से मांगें। सभी का डिटेल मांगें। अंबानी, अदानी और बाकी व्यवसायियों का भी डिटेल मांगें। निष्पक्ष लोगों की कमेटी बनवाकर सभी दलों के अंदर के कालाधन की जांच करायी जाए।