जिला परिवहन पदाधिकारी और बालू कारोबारियों के बीच ओवरलोड को लेकर हुई जमकर झड़प

79
0
SHARE

मोतिहारी – जिला परिवहन पदाधिकारी और बालू कारोबारियों के बीच जमकर झड़प हुआ. घटना के बाद डीटीओ दिलीप अग्रवाल ने मुफ्फसिल थाना में आवेदन देकर कारोबारियों पर जानलेवा हमला करने का आरोप लगाया है. तो बालू कारोबारी डीटीओ पर अवैध उगाही को लेकर मारपीट करने का आरोप लगा रहे हैं.

दरअसल मोतिहारी के मुफ्फसिल थाना के बैरिया देवी स्थान के समीप एनएच-28 ए पर एक लाईन होटल पर कुछ बालू लदे और कुछ खाली ट्रक खड़े थे. जिस दौरान डीटीओ दिलीप अग्रवाल ने बालू लदे ट्रक के चालक से कागज मांगा. लेकिन ट्रक चालक वैध कागज नहीं दिखा पाये. लिहाजा, डीटीओ दो ट्रकों को जब्त कर उसके ड्राईवर को पकड़ लिया और उसे लेकर थाना की ओर बढ़े. लेकिन रास्ते में हीं कुछ लोगों ने डीटीओ की गाड़ी रोक कर घेर लिया और उनके साथ हाथापाई कर पकड़े गये ड्राईवरों को छुड़ा लिया. ड्राईवरों को छुडाने के दौरान लोगों ने डीटीओं के साथ हाथापाई भी किया. साथ ही डीटीओं के गाडी को आंशिक रुप से क्षतिग्रस्त किया.

इस बावत डीटीओ ने मुफ्फसिल थाना में ट्रक ड्राईवरों पर दुर्व्यवहार करने और सरकारी काम में हस्तक्षेप करने का आरोप लगाया है. साथ ही ड्राईवरों को छुडाने के दौरान सरकारी मोबाईल छीनने का भी आरोप लगाया है. घटना के बाद डीटीओ दिलीप अग्रवाल जिला पुलिस को ही कटघरा में खड़ा करते हुए सहयोग नहीं करने का आरोप लगाया.

इधर डीटीओ से छुड़ाए गए ट्रक ड्राईवर ने उल्टा आरोप लगाया है कि डीटीओ जबरन पैसा मांग रहे थे जिससे इंकार करने पर डीटीओ ने उसके साथ मारपीट किया है और जबरन पॉकेट से रुपये और मोबाईल छीन लिया.

परिवहन विभाग के अधिकारी अवैध वसूली के किए बदनाम रहे है. तभी तो इनके आँखों के सामने परिवहन नियमों की धज्जियां उड़ाते ओवरलोड गाड़ियाँ सड़कों पर सरपट दौड़ती रहती है. साथ ही बालू कारोबारियों का खेल धड़ल्ले से जारी है. पूरे मामले पर रोक लगाने की जरुरत है.