नौ बेटियों ने एक साथ दिया पिता के अर्थी को कंधा

687
0
SHARE

बेटियां भी बेटों से कम नहीं होती। अब हर बेटे के फर्ज को बेटियां बखूबी निभा भी रही हैं। बात चाहे व्यवहारिक जीवन की हो या सामाजिक जीवन की। हर क्षेत्र में योगदान दे रही हैं।

Read More Banka News in Hindi

इसकी बानगी बुधवार को बिहार के बांका जिले में देखने को मिली जहां एक साथ नौ बेटियों ने अपने पिता को अंतिम विदाई दी और अर्थी को कंधा दिया। जानकारी के मुताबिक मृतक की केवल नौ बेटियां ही थीं और उनका कोई पुत्र नहीं था। बांका के कटोरिया थाना निवासी व्यवसायी चुन्नीलाल शाह की किडनी की बीमारी के मंगलवार को इलाज के दौरान मौत हो गई। इसके बाद उनका शव बांका लाया गया। कटोरिया से दाह संस्कार के लिये सुल्तानगंज ले जाने के दौरान मृतक की सभी नौ लड़कियों ने पिता की अर्थी को कंधा दिया।

Read More Bihar News in Hindi

पिता की अर्थी को कंधा देने वाली पुत्री माला ने बताया कि भाई नहीं रहने का पिता समेत हम बहनों को कोई अफसोस नहीं है क्योंकि हमने पिता की अर्थी को कंधा देकर पुत्र धर्म भी निभाया है।