17 अप्रैल को पटना में सम्मानित होंगे देश भर के स्वतंत्रता सेनानी- नीतीश कुमार

82866
0
SHARE

चम्पारण सत्याग्रह के शताब्दी और गांधी संग्रहालय पटना के गोल्डन जुबली कार्यक्रम में भाग लेते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि हम चम्पारण सत्याग्रह का 100वां साल मना रहे हैं और पूरे वर्ष तक इस उपलक्ष्य में कार्यक्रम आयोजित होते रहेंगे। आज ही के दिन राष्ट्रपिता महात्मा गांधी मोतिहारी पहुंचे थे।

Read More Patna News in Hindi

गांधी संग्रहालय का आज स्वर्ण जयंती समारोह मना रहे हैं, यह प्रसन्नता की बात है, इसके लिए आयोजकों को धन्यवाद देता हूं। चम्पारण सत्याग्रह समारोह 10 अप्रैल 2017 से शुरू की गई है जो 21 अप्रैल 2018 तक जारी रहेगा। 10 एवं 11 अप्रैल को पटना में नवनिर्मित ज्ञान भवन में राष्ट्रीय विमर्श का आयोजन किया गया, जिसमें पूरे देश का गांधी विचारक शामिल हुए और अपने-अपने विचार रखे।

Read More Motihari News in Hindi

दो दिन तक चले इस राष्ट्रीय विमर्श में आये विचारकों के विचारों का संकलन कर मुद्रित किया जायेगा, जो आज की पीढ़ी और आनेवाली पीढ़ी के लिए ज्ञान वर्द्धक और प्रेरणादायी होगा। गांधी जी के विचार आज भी प्रासंगिक हैं और उनके विचारों को संयोजने और सहेजने के लिए गांधी संग्रहालय का सचिव रजी अहमद धनवाद के पात्र हैं। उन्होने गांधी जी के दुर्लभ चित्र, गांधी जी पर विभीन्न लेखकों द्वारा लीखी गई पुस्तकें, पाण्डुलिपीयॉ, मूर्तियों को सहेजकर इस संग्रहालय में सुरक्षित रखे हैं।

Read More East Champaran News in Hindi

गांधी मैदान में देश की सबसे ऊंची गांधी की प्रतिमा स्थापित है। श्री रजी अहमद जी का प्रतिमा निर्माण से लेकर प्रतिमा स्थापित करने तक का बड़ा योगदान रहा है। इसी प्रतीमा को चम्पारण सत्याग्रह समारोह का प्रतिक चिन्ह के रूप में घोषित किया गया है। गांधी जी का जीवन ही उनका संदेश है। राजकुमार शुक्ल जी ने गांधी जी को चम्पारण लाने में अग्रणी भूमिका निभाई थी और चम्पारण में निलहों के अत्याचार से मुक्ति दिलाने में गांधी जी ने अपना पहला सफल सत्याग्रह की नींव रखी थी।

Read More West Champaran News in Hindi

अपने बिहार के भ्रमण के दौरान जिस-जिस स्थल पर गये और गतिविधियां उनकी सभी स्थलों पर और गतिविधीयों को स्मरण करने की कोशिश की जायेगी। हमारा मकसद गांधी जी के विचारों, उनके संदेशों को जन-जन एवं घर-घर तक पहुंचाना है। इस एक वर्षीय कार्यक्रम में सभी विभागों द्वारा कार्यक्रम आयोजित कीये जा रहे हैं।

Read More Bihar News in Hindi

कला संसकृति विभाग द्वारा भी कार्यक्रम आयोजित कीये जा रहे हैं। कार्यक्रम आयोजन को लेकर सर्वदलीय बैठक बुलाई गई थी और कार्यक्रम की रूप-रेखा तय की गई थी। 17 अप्रैल को पटना में देश भर के स्वतंत्रता सेनानियों को सम्मानित किया जायेगा। जिसमें राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, केन्द्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भी हिस्सा लेने की सहमती जतायी है। चम्पारण सत्याग्रह से आजादी की लड़ाई को नई गति तथा नई दिशा मिले और महज 30 साल के अंदर ही देश आजाद हो गया । चम्पारण सत्याग्रह के 100 साल पूरा होने पर हम स्वतंत्रता सेनानियों को सम्मानित कर रहे हैं, ये हमारे लिए गौरव की बात है।18 अप्रैल को मोतिहारी में स्मति यात्रा अंतर्गत पदयात्रा की जायेगी। 12 अप्रैल से मैने प्रचार वाहन गांधी रथ को हरी झण्डी दिखाई जो प्रत्येक पंचायतों में घूम-घूम कर फिल्म, गीत, वृतचित्र के माध्यम से गांधी जी के विचारों को जन-जन तक पहुचायेगी। स्कूलों में के बाद प्रतिदिन गांधीजी से संबंधित कहानि सुनाई जायेगी। गांधी जी के विचारों को सभी लोग जानते हैं, सबके मन में उनके प्रति आदर भाव है, पर सिर्फ नाम से नहीं, उनके जीवन संदेस से अवगत होइये, उनके विचारों से अवगत होईये। उनके विचारों को आत्मसात कीजीये। अगर नई पीढ़ी का 10% भी गांधी जी के विचारों के प्रति आकर्षित हो जाए तो आने वाला 10 से 15 साल में समाज बदल जायेगा। गांधी संग्रहालय मे बचे खाली जगहों पर एक सभागार का निर्माण किया जायेगा।