पांचवें दिन भी नहीं मिला लापता दो किशोरो का सुराग

440
0
SHARE

किशनगंज। बेलवा स्थित ओदरा घाट में डूबे दो किशोरों का पांचवें दिन भी कोई सुराग नहीं मिल पाया। शुक्रवार को भी प्रशासन का तलाशी अभियान जारी रहा। लापता बच्चों की सुराग के लिए प्रशासन का अंतिम प्रयास चल रहा है। प्रशासन द्वारा दो दिनों से ड्रोजर मशीन से नदी से बालू निकालने का काम किया जा रहा है ताकि दोनों लड़कों का सुराग मिल सके। सीओ रमण कुमार साह लगातार पांच दिनों से तलाशी अभियान में जुटे हैं। एसडीआरएफ की टीम भी लगातार पांच दिनों से बच्चों की खोज में लगी है। सीओ ने बताया कि ड्रोजर मशीन से अंतिम प्रयास किया जा रहा है। अगर इसके बाद भी कोई सुराग नहीं मिला तो शनिवार से तलाशी अभियान बंद कर दिया जाएगा। इधर बच्चों का सुराग नहीं मिलने से परिजनों का हाल बेहाल है। सुबह से शाम तक परिजन प्रशासन की टीम के साथ घटनास्थल पर जमे रहते हैं कि कहीं बच्चों का पता चल जाए। लेकिन उन्हें पांच दिनों से निराशा ही हाथ लग रही है। ऐसे में परिजन किसी अनहोनी की आशंका से सहम गए हैं।

सोमवार को नहाने के दौरान डूबे थे बच्चे

चौथी सोमवारी के दिन डोक नदी के ओदरा घाट पर नहाने के दौरान दो किशोर मिलनपल्ली कजलामनी निवासी मंगल कुमार और खगड़ा चौपरासी मोहल्ला निवासी वरुण कुमार डूब गए थे, जिनका अब तक पता नहीं चला है। घटना की सूचना मिलने पर एसडीएम मो. शफीक, एसडीपीओ कामिनी बाला, बीडीओ ओमप्रकाश, सीओ रमण कु. साह, थानाध्यक्ष प्रमोद राय घटनास्थल पर पहुंचे थे। एसडीएम ने पहले स्थानीय गोताखोरों की मदद से बच्चों को खोजवाने का काम शुरु किया। थोड़ी ही देर बाद एसडीआरएफ की टीम के सदस्यों ने बच्चों के खोजने की कमान संभाल ली थी। नदी में डूबे दोनों किशोरों के परिजनों के द्वारा बुधवार को डीएम से ड्रोजर मशीन से खोजने की गुहार लगाया था। जिस पर जिलाधिकारी ने खनन विभाग को ड्रोजर मशीन उपलब्ध कराने का निर्देश दिया था। गुरुवार से ही ड्रोजर मशीन से लापता दोनों किशोरों की खोजबीन की जा रही है। जिला प्रशासन के द्वारा सोमवार से एसडीआरएफ की टीम व डोजल मशीन से खोजा जा रहा है