डीइओ के बाद अब डीएम और एडीएम को मिली धमकी

140
0
SHARE

एसडीओ के पास निबंधित डाक से भेजा धमकी भरा पत्र

फर्जी शिक्षक पर कारवाई को लेकर 4 दिन पूर्व डीईओ को भी मिला था धमकी भरा पत्र

जहानाबाद – फर्जी शिक्षक पर कार्रवाई को लेकर डीईओ तथा डीपीओ के बाद अब एसडीओ को निबंधित डाक से लेटर भेज कर धमकी दी गयी है। लेटर में फर्जी शिक्षकों पर भेदभाव कर कार्रवाई करने का जिक्र किया गया है और कहा गया है कि डीएम, एडीएम, बीईओ, डीईओ, डीपीओ इन शिक्षकों को क्यों रखे हुए हैं ? धमकी देते हुए पत्र में 16 शिक्षकों के नाम हैं जिनके बारे में लिखा गया है कि यह सभी शिक्षक दूसरे के फर्जी कागज पर बहाल हैं। अगर अन्य शिक्षकों पर कार्रवाई हुई तो इन पर भी कार्रवाई होनी चाहिए। अगर इन पर कार्रवाई नहीं हुई तो किसी पर भी कार्रवाई नहीं की जाये। मुंह देख कर काम मत करो। इंसान को निकाल दो और हैवान को पेमेंट कर दो ऐसा हो रहा है।

इस पर अगर रोक नहीं लगी, तो अरवल जिले के करपी के बीईओ शालिकराम शर्मा जैसा अंजाम भुगतना होगा। बीईओ शालिकराम शर्मा की हत्या उस वक्त गोली मार कर की गई थी जब वे अपने कार्यालय में काम कर रहे थे। पत्र मिलने के बाद एसडीओ ने इस संबंध में अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को वस्तुस्थिति की गंभीरता को देखते हुए इसकी गहन जांच कर विधिसम्मत कार्रवाई करने के लिए संबंधित को आवश्यक निर्देश देने की बात कही है। यह पत्र गया डेल्हा निवासी राजकिशोर शर्मा द्वारा भेजा गया है। जबकि चार दिन पूर्व डीईओ तथा डीपीओ स्थापना को रजिस्ट्री डाक से पत्र भेज कर जान से मारने की धमकी दी गयी थी। पत्र में उल्लेख किया गया था कि अगर फर्जी शिक्षकों पर कार्रवाई की गयी, तो अंजाम बुरा होगा। वह पत्र गया से अविनाश शर्मा के नाम से भेजा गया था जिसमें अश्लील शब्दों का इस्तेमाल करते हुए धमकी दी गयी थी। धमकी मिलने के बाद पुलिस प्रशासन द्वारा डीईओ को सुरक्षा गार्ड मुहैया कराया गया है। DEO के बाद DM एवं ADM को धमकी भरे पत्र से प्रशासन हैरत में और शिक्षा विभाग दहशत में है।